मानवता का व्यक्तित्व शशिकांत ऐरी : आशीष कुमार शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Manavta Ka Vyaktitv Shashikant Aeri : by Ashish Kumar Shukla Hindi PDF Book – Social (Samajik)

मानवता का व्यक्तित्व शशिकांत ऐरी : आशीष कुमार शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Manavta Ka Vyaktitv Shashikant Aeri : by Ashish Kumar Shukla Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Author
Category,
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“अमरीका ने मानवाधिकारों की खोज नहीं की। सही मायने में तो बात इससे उल्टी है। मानव अधिकारों ने अमरीका की खोज की।” जिमी कार्टर
“America did not invent human rights. In a very real sense, human rights invented America.” Jimmy Carter

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

मानवता का व्यक्तित्व शशिकांत ऐरी : आशीष कुमार शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Manavta Ka Vyaktitv Shashikant Aeri : by Ashish Kumar Shukla Hindi PDF Book – Social (Samajik)

मानवता का व्यक्तित्व शशिकांत ऐरी : आशीष कुमार शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Manavta Ka Vyaktitv Shashikant Aeri : by Ashish Kumar Shukla Hindi PDF Book - Social (Samajik)

  • Pustak Ka Naam / Name of Book : मानवता का व्यक्तित्व शशिकांत ऐरी / Manavta Ka Vyaktitv Shashikant Aeri Hindi Book in PDF
  • Pustak Ke Lekhak / Author of Book : आशीष कुमार शुक्ल  / Ashish Kumar Shukla
  • Pustak Ki Bhasha / Language of Book : हिंदी / Hindi
  • Pustak Ka Akar / Size of Ebook : 800 KB
  • Pustak Mein Kul Prashth / Total pages in ebook : 60
  • Pustak Download Sthiti / Ebook Downloading Status : Best

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

मानवता का व्यक्तित्व शशिकांत ऐरी : आशीष कुमार शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Manavta Ka Vyaktitv Shashikant Aeri : by Ashish Kumar Shukla Hindi PDF Book - Social (Samajik)

Pustak Ka Vivaran : Sirf Manav kee kahalana kapfi nahin hai balki manavata ka pharj bhee nibhane aana chahiye, sirph Unchen ohadon par ya bada vyavasay kar lene matra se hee apanee pahachan nahin bananee chahiye jo jeevan ka ek matra uddeshy hai. jara sochiye ,, is bat ko hava mein na pheken…………

अन्य सामाजिक पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए- “सामाजिक हिंदी पुस्तक

Description about eBook : It is not enough to be called a mere human being, but the duty of humanity should also be fulfilled, one should not make a mark only by holding high positions or doing big business, which is the only purpose of life. Just think, do not throw this thing in the air………………

To read other Social books click here- “Social Hindi Books

 

सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें

 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें

 

“आप किसी चीज़ का विशद ज्ञान हासिल करना चाहते हैं तो इसे दूसरों को सिखाने लगिए”

‐ ट्रायन एडवर्ड्स

——————————–

“If you would thoroughly know anything, teach it to others.”

‐ Tryon Edwards

Connect with us on Facebook and Instagram – सोशल मीडिया पर हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज लाइक करें. लिंक नीचे दिए है

Leave a Comment