गुड़िया अपने मकान की तलाश में : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Gudiya Apne Makan Ki Talash Mein : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameगुड़िया अपने मकान की तलाश में / Gudiya Apne Makan Ki Talash Mein
Author
Category, , , ,
Language
Pages 41
Quality Good
Size 15 MB
Download Status Available

गुड़िया अपने मकान की तलाश में का संछिप्त विवरण : उसी समय नरकुल की पत्तियों, जलघास और पंखों से बना एक छोटा-सा मकान पानी में नाव की तरह बहता हुआ गुड़िया के सामने आया। यह मकान मादा पनडब्बी पक्षी का था, जो उस पर बैठी हुई थी। पनड॒ब्बी ने कहा: “फिक्र मत करो। मैं अंडे से रही हूं। इस पर बैठकर मुझे लगता है जैसे किसी नाव पर बेठी हूं। हवा के झोंके से मेरा मकान पानी के साथ बहने लगता है। इसमें मुझे बड़ा मजा आता है…..

Gudiya Apne Makan Ki Talash Mein PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Usi Samay Narkul kee pattiyon, jalaghas aur pankhon se bana ek chhota-sa makan Pani mein Nav kee tarah bahata huya gudiya ke samane aaya. Yah makan mada Panadubbi Pakshi ka tha, jo us par baithee huyi thee. Panadubbi ne kaha: “Phikr mat karo. Main Ande se rahee hoon. Is Par Baithakar mujhe lagata hai jaise kisi Nav par bethi hoon. Hava ke jhonke se mera makan Pani ke sath bahane lagata hai. Isamen mujhe bada maja Aata hai………
Short Description of Gudiya Apne Makan Ki Talash Mein PDF Book : At the same time, a small house made of narkul leaves, jalaghas and feathers came in front of the doll, flowing like a boat in water. This house belonged to a female submarine bird, which was sitting on it. The submarine said: “Don’t worry. I have been with eggs. Sitting on it, I feel like sitting on a boat. Due to the wind, my house starts flowing with water. I enjoy it very much ………
“ऐसा नहीं है कि मैं बहुत चतुर हूं; सच्चाई यह है कि मैं समस्याओं का सामना अधिक समय तक करता हूं।” ‐ अल्बर्ट आंईस्टीन
“It’s not that I’m so smart; it’s just that I stay with problems longer.” ‐ Albert Einstein

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment