आचार्य शुक्ल और चिन्तामणि : डॉ. प्रेमकान्त टण्डन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Acharya Shukl Aur Chintamani : by Dr. Premkant Tandan Hindi PDF Book – Literature (Sahitya)

आचार्य शुक्ल और चिन्तामणि : डॉ. प्रेमकान्त टण्डन द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Acharya Shukl Aur Chintamani : by Dr. Premkant Tandan Hindi PDF Book - Literature (Sahitya)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आचार्य शुक्ल और चिन्तामणि / Acharya Shukl Aur Chintamani
Author
Category,
Language
Pages 154
Quality Good
Size 6.7 MB
Download Status Available

आचार्य शुक्ल और चिन्तामणि पुस्तक का कुछ अंश : विषय को सीमित करने के लिए उसकी परिधि को निधोरित कर देना आवश्यक है | यह कार्य लेखक की निजी अभिरुचि से होता है | किसी विषय को अनेक इष्टियों से देखा जा सकता है | किस विशेष दृष्टि से देखा जाय, यह निबंधकार के व्यक्तित्व की सरंचना, उसकी व्यक्तित्व सदभाव करता है, और यही निबंध का व्यक्ति-तत्व है | निबंध में…….

Acharya Shukl Aur Chintamani PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Vishay ko Seemit karane ke liye Usaki Paridhi ko Nirdharit kar dena Avashyak hai. Yah kary Lekhak ki Niji Abhiruchi se hota hai. kisi Vishay ko Anek Drshtiyon se dekha ja Sakata hai. kis Vishesh drshti se dekha jay, yah nibandhakar ke vyaktitv ki Saranchana, Usaki Vyaktitv  Sadabhav karata hai, aur yahi Nibandh ka Vyakti-tatv hai. Nibandh mein………….
Short Passage of Acharya Shukl Aur Chintamani Hindi PDF Book : To restrict the subject, it is necessary to determine its perimeter. This work is done by the writer’s personal interest. A topic can be viewed in many ways. To be seen in a special way, it creates the essence of the essayist’s personality, his personality, and this is the essence of essay. In essay…………..
“यदि कोई व्यक्ति धन के प्रति अपनी सोच या रवैये को ठीक कर लेता है, इससे उसके जीवन में लगभग हर दूसरे पहलू को ठीक करने में सहायता मिलती है।” – बिल्ली ग्राहम
“If a person gets his attitude toward money straight, it will help straighten out almost every other area in his life.” – Billy Graham

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment