भारतीय विदेश नीति का आधार : विशेश्वर प्रसाद द्वारा मुफ्त हिंदी राजनीतिक पीडीएफ पुस्तक | Bhartiya Videsh Neeti Ka Adhar : by Visheshwar Prasad Free Hindi Political PDF Book

Author
Category,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“मैंने काफी समय से यह देखा है कि सफल व्यक्ति बैठ कर घटनाओं का इंतजार नहीं करते हैं अपितु वे आगे बढ़ते हैं और कार्य को अंजाम देते हैं।” ‐ एलिनोर स्मिथ
“It had long since come to my attention that people of accomplishment rarely sat back and let things happen to them. They went out and happened to things.” ‐ Elinor Smith

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

भारतीय विदेश नीति का आधार : विशेश्वर प्रसाद द्वारा मुफ्त हिंदी राजनीतिक पीडीएफ पुस्तक | Bhartiya Videsh Neeti Ka Adhar : by Visheshwar Prasad Free Hindi Political PDF Book 

( Download Link Given Below / डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया हैं )
bhartiya-videsh-neeti-ka-adhar-visheshwar-prasad-भारतीय-विदेश-नीति-का-आधार-विशेश्वर-प्रसाद

पुस्तक का नाम / Name of Book : भारतीय विदेश नीति का आधार / Bhartiya Videsh Neeti Ka Adhar

पुस्तक के लेखक / Author of Book : विशेश्वर प्रसाद / Visheshwar Prasad

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 30 MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 299

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

पुस्तक का विवरण : स्वतंत्र राज्य का निर्माण होने से उन लोगों पर अनिवार्य रूप से नई जिम्मेदारियाँ आ जाती हैं जो विदेशी शासन के जुए से मुक्त हुए हों| इनमें से एक जिम्मेदारी यह है कि उन्हें अपने सीमांतों की सुरक्षा तथा राज्य-क्षेत्रों की अलंघनीयता के प्रति सतत सतर्क रहना पड़ता है| इसके लिए दो बातों की जरुरत होती है- एक ओर तो उन्हें सशक्त रक्षा-सेनाएं रखनी पड़ती हैं और दूसरी ओर एक विदेश-नीति का निर्धारण करना पड़ता है जो देश की आवश्यकताओं तथा राष्ट्र-मानस के अनुरूप हो| भारत को फिर से स्वतंत्रता प्राप्त हो गयी है और उसके लोगो को यह अधिकार मिल गया है कि वे संसार के दुसरे राष्ट्रों के साथ अपने संबंधों का नियमन स्वयं कर सकें…………..

अन्य राजनीतिक पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  “राजनीतिक हिंदी पुस्तक”

Description about eBook : By creating an independent state, there are essentially new responsibilities on those who are free from the gambling of foreign rule. One of these responsibilities is that they have to be constantly alert to the security of their frontiers and the untouchability of the state territories. For this, two things are needed- on one hand they have to keep strong defense-armies and on the other hand one has to determine the foreign policy that is in line with the needs of the country and the nation. India has got freedom again and its people have got this right that they can regulate their relations with other nations of the world……………….

To read other Political books click here- “Hindi Political Books”


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें



इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 

One Quotation / एक उद्धरण
“हो सकता है कि मैं आपके विचारों से सहमत न हो पाऊं, परन्तु विचार प्रकट करने के आपके अधिकार की रक्षा करूंगा।”
– वाल्तेयर


——————————–

“I may not agree with what you say, but I’ll defend to the death your right to say it.”
– Voltaire

Leave a Comment