बुनकरों की दुनिया पांच कहानियां और प्रार्थना : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Bunkaron Ki Duniya Panch Kahaniyan Aur Prarthana : Hindi PDF Book – Story (Kahani)

बुनकरों की दुनिया पांच कहानियां और प्रार्थना : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Bunkaron Ki Duniya Panch Kahaniyan Aur Prarthana : Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बुनकरों की दुनिया पांच कहानियां और प्रार्थना / Bunkaron Ki Duniya Panch Kahaniyan Aur Prarthana
Author
Category, , , ,
Language
Pages 65
Quality Good
Size 1.7 MB
Download Status Available

बुनकरों की दुनिया पांच कहानियां और प्रार्थना का संछिप्त विवरण : दूर-दराज के एक देश में एक बूढ़ा जुलाहा रहता था। वह कपड़े बुनता था। यह माना जाता था कि उस जुलाहे के हाथ से बुने कपड़े में बरकत थी। जो स्त्री और पुरुष उसके बनाए कपड़े पहनते थे वे स्वस्थ, समृद्ध और बुद्धिमान हो जाते थे। लेकिन बूढ़ा जुलाहा खुद के बुने हुए कपड़े किसी को बेचता नहीं था, वह खुद उन लोगों को चुनता था जिन्हें वह कपड़े दे सके। इसके अलावा वह किसी और को कपड़े नहीं देता……..

Bunkaron Ki Duniya Panch Kahaniyan Aur Prarthana PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Door-Daraj ke ek desh mein ek boodha julaha rahata tha. Vah kapade bunata tha. Yah mana jata tha ki us julahe ke hath se bune kapade mein barkat thei. Jo Stri aur purush uske banaye kapade pahanate the ve svasth, samrddh aur buddhiman ho jate the. Lekin boodha julaha khud ke bune huye kapade kisi ko bechata nahin tha, vah khud un logon ko chunata tha jinhen vah kapade de sake. Iske alava vah kisi aur ko kapde nahin deta tha……….
Short Description of Bunkaron Ki Duniya Panch Kahaniyan Aur Prarthana PDF Book : There lived an old weaver in a faraway country. He used to weave clothes. It was believed that the hand-woven cloth of that weaver was blessed. Men and women who wore clothes made by him became healthy, prosperous and wise. But the old weaver did not sell his own knitted clothes to anyone, he himself chose those to whom he could give clothes. Apart from this, he did not give clothes to anyone else……
“अगर आप अपने बच्चों के शारीरिक श्रम की हिदायत देते हैं, तो बेहतर है कि आप भी वैसा ही करें। अपने उपदेशों पर स्वयं अमल करें।” ब्रूस जेनर
“If you’re asking your kids to exercise, then you better do it, too. Practice what you preach.” Bruce Jenner

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment