रसायन विज्ञान (रसायन शास्त्र) – कक्षा 12 एन. सी. ई. आर. टी. पुस्तक | Chemistry – Class 12th N.C.E.R.T Books

Book Nameएन. सी. ई. आर. टी. कक्षा 12 रसायन विज्ञान (रसायन शास्त्र) / N.C.E.R.T Class 12th Chemistry
Author
Category, , , , , ,
Language
Pages 100
Quality Good
Size 10.5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : रसायन विज्ञान रासायनिक पदार्थों का वैज्ञानिक अध्ययन है। पदार्थों का संघटन परमाणु या उप-परमाण्विक कणों जैसे इलेक्ट्रॉन, प्रोटॉन और न्यूट्रॉन से हुआ है। रसायन विज्ञान को केंद्रीय विज्ञान या आधारभूत विज्ञान भी कहा जाता है क्योंकि यह दूसरे विज्ञानों जैसे, खगोलविज्ञान, भौतिकी, पदार्थ विज्ञान, जीवविज्ञान और भूविज्ञान को जोड़ता है…………..

Pustak Ka Vivaran : Rasayan vigyan Rasayanik padarthon ka vaigyanik adhyayan hai. Padarthon ka sanghatan paramanu ya up-paramaanvik kanon jaise ilektron, proton aur nyootron se huya hai. Rasayan vigyan ko kendreey vigyan ya aadharabhoot vigyan bhee kaha jata hai kyonki yah doosare vigyanon jaise, khagolavigyan, bhautiki, padarth vigyaan, jeevavigyan aur bhoovigyan ko jodata hai…………..

Description about eBook : Chemistry is the scientific study of chemical substances. Matter is made up of atomic or subatomic particles such as electrons, protons and neutrons. Chemistry is also called central science or basic science because it combines other sciences such as astronomy, physics, materials science, biology and geology…….

“आप प्रत्येक ऐसे अनुभव जिसमें आपको वस्तुत डर सामने दिखाई देता है, से बल, साहस तथा विश्वास अर्जित करते हैं। आपको ऐसे कार्य अवश्य करने चाहिए जिनके बारे में आप सोचते हैं कि आप उनको नहीं कर सकते हैं।” ‐ एलेनोर रुज़वेल्ट
“You gain strength, courage, and confidence by every experience in which you really stop to look fear in the face. You must do the thing which you think you cannot do.” ‐ Eleanor Roosevelt

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

1 thought on “रसायन विज्ञान (रसायन शास्त्र) – कक्षा 12 एन. सी. ई. आर. टी. पुस्तक | Chemistry – Class 12th N.C.E.R.T Books”

Leave a Comment