हमारी वसीयत और विरासत : पं० श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Hamari Vasiyat Aur Virasat : by Pt. Shri Ram Sharma Acharya Hindi PDF Book – Social (Samajik)

हमारी वसीयत और विरासत : पं० श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Hamari Vasiyat Aur Virasat : by Pt. Shri Ram Sharma Acharya Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name हमारी वसीयत और विरासत / Hamari Vasiyat Aur Virasat
Author
Category, ,
Language
Pages 201
Quality Good
Size 7.3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : जिन्हें भले या बुरे क्षेत्रों में विशिष्ट व्यक्ति समझा जाता है, उनकी जीवनचर्या के साथ जुड़े हुए घटनाक्रमों को भी जानने ‘की इच्छा होती है। कौतूहलं के अतिरिक्त इसमें एक भाव ऐसा भी होता है, जिसके सहारे कोई अपने काम आने वाली बात मिल सके। जो हो कथा-साहित्य से जीवनचर्याओं का सघन
संबंध है। वे रोचक भी लगती हैं और अनुभव प्रदान करने की दृष्टि से उपयोगी भी होती हैं…….

Pustak Ka Vivaran : Jinhen bhale ya bure kshetron mein vishisht vyakti samajha jata hai, unaki jeevanacharya ke sath jude huye Ghatanakramon ko bhi janane ki ichchha hoti hai. Kautoohalan ke atirikt isamen ek bhav aisa bhi hota hai, jisake sahare koi apane kam aane vali bat mil sake. Jo ho katha-sahity se jeevanacharyaon ka saghan sambandh hai. Ve Rochak bhi lagati hain aur anubhav pradan karane ki drshti se upayogi bhi hoti hain………

Description about eBook : Those who are considered to be special persons in good or bad areas, also have a desire to know the events associated with their lifestyles. In addition to curiosity, there is a sense in it, with the help of which one can get something useful for himself. Whatever be the lifelong relationship with fiction. They also look interesting and are useful in terms of providing experience ………

“हम जैसा सोचते हैं, वैसा ही बन जाते हैं।” – बुद्ध
“What we think, we become.” – Buddha

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment