कोख का किराया : तेजेंद्र शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Kokh Ka Kiraya : by Tejendra Sharma Hindi PDF Book – Story ( Kahani )

कोख का किराया : तेजेंद्र शर्मा द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Kokh Ka Kiraya : by Tejendra Sharma Hindi PDF Book - Story ( Kahani )
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name कोख का किराया / Kokh Ka Kiraya
Author
Category, ,
Language
Pages 29
Quality Good
Size 959 KB
Download Status Available

कोख का किराया पुस्तक का कुछ अंश : आज मनप्रीत, हारी हुई सी, घर के एक अँधेरे कोने में अकेली बैठी है। वह तो आसानी से हार मानने वालों में से नहीं है। आज तो पूरा कमरा; पूरा घर ही पराजय का पर्याय सा बना हुआ है। सूना, अकेला, सुनसान-सा घर! अभी कल तक तो घर में सब कुछ था – खुशी, प्रेम, विश्वास! हत्या हुई है! भावनाओं की हत्या! कितु मनप्रीत ने कब किसकी भावनाओं का आदर किया है! अपने वर्तमान के लिए वह किसे उत्तरादायी ठहराए? वर्तमान कोई किसी साधु महात्मा द्वारा जादू के बल पर अचानक हवा में से निकाला हुआ फल या प्रसाद तो है नहीं………

Kokh Ka Kiraya PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Aaj manprit, hari hui si, ghar ke ek andhere kone mein akeli baithi hai. Vah to aasani se haar manne valon mein se nahin hai. Aaj to pura kamara; pura ghar hi parajay ka paryay sa bana hua hai. Suna, akela, sunasan-sa ghar! abhi kal tak to ghar mein sab kuchh tha – khushi, prem, vishvas! hatya hui hai! bhawanaon ki hatya! kintu manprit ne kab kiski bhawnaon ka aadar kiya hai! apne vartaman ke lie vah kise uttaradayi thaharae? vartaman koi kisi sadhu mahatma dwara jadu ke bal par achanak hava mein se nikala hua phal ya prasad to hai nahin…………
Short Passage of Kokh Ka Kiraya Hindi PDF Book : Today Manpreet, lost, is sitting in the dark corner of the house alone. He is not easily defeated. Today, the whole room; The whole house itself remains a synonym for defeat. Sune, alone, deserted house! Until now till then everything in the house was – happiness, love, faith! Murder is done! Emotions killing! But when Manpreet has respected his feelings! Who will be the answer for his present? There is no fruit or offering ever taken out of the air by any of the saints of the past……………
“अगर आप कांटे फैलाते हैं तो नंगे पैर न चलें।” इटली की कहावत
“If you scatter thorns, don’t go barefoot.” Italian proverb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment