क्या आदिवासी प्राकृतिक पूजक है : शिव प्रकाश भगत द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Kya Aadivasi Prakratik Pujak Hai : by Shiv Prakash Bhagat Hindi PDF Book – Social (Samajik)

क्या आदिवासी प्राकृतिक पूजक है : शिव प्रकाश भगत द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Kya Aadivasi Prakratik Pujak Hai : by Shiv Prakash Bhagat Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name क्या आदिवासी प्राकृतिक पूजक है / Kya Aadivasi Prakratik Pujak Hai
Author
Category
Language
Pages 26
Quality Good
Size 13 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इसे जानने के लिए समाज के अतीत में चलना होगा। उराँव समाज में कुछ ऐसे भी व्यक्ति थे जिनका 36 वर्षो से भी अधिक धर्म क्षेत्र में उनका बड़ा योगदान रहा है। उनके मार्ग दर्शन में चाला पच्चो अयंग का कलैण्डर, चाला का फोटो, लॉकेट, कि-रिंग, अद्‌दी धरम्‌ दर्शन का बड़ा पोस्टर ,रोहतास गढ़ का कलैंण्डर, मुड़मा जतरा खुटा का कलैंण्डर, पलकॉसना धर्म……..

Pustak Ka Vivaran : Ise Janane ke liye samaj ke ateet mein chalana hoga. Uranv samaj mein kuchh aise bhi vyakti the jinaka 36 varsho se bhi adhik dharm kshetra mein unka bada yogdan raha hai. Unke marg darshan mein chala pachcho ayang ka Calendar, chala ka photo, loket, ki-ring, ad‌di dharam‌ darshan ka bada postar ,rohtas gadh ka Calenndar, mudama jatara khuta ka Calenndar, palakosana dharm……..

Description about eBook : To know this, one has to walk in the past of society. There were some people in the Oraon society who have contributed a lot in the field of religion for more than 36 years. In his guidance, Chala Pachho Ayang’s calendar, Chala’s photo, locket, key-ring, big poster of Adi Dharma Darshan, Rohtas Garh’s calendar, Mudma Jatra Khuta’s calendar, Palakosna Dharma………

“सफलता एक घटिया शिक्षक है। यह लोगों में यह सोच विकसित कर देता है कि वे असफल नहीं हो सकते।” बिल गेट्स
“Success is a lousy teacher. It seduces smart people into thinking they can’t lose.” Bill Gates

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment