क्या आप ईश्वर को मानते हैं हिंदी पुस्तक मुफ्त डाउनलोड | Kya Aap Ishwar Ko Mante Hain Hindi Book Free Download

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name क्या आप ईश्वर को मानते हैं / Kya Aap Ishwar Ko Mante Hain
Author
Category,
Language
Pages 13
Quality Good
Size 248 KB
Download Status Available

क्या आप ईश्वर को मानते हैं पुस्तक का कुछ अंश : एक गुरुजी ने बिल्ली पाल रखी थी। जब वे शिष्यों को पढ़ाते थे, तब वह बिल्ली स्थिर होकर बैठ जाती थी और वे उस बिल्ली के सिर पर दीपक रख देते थे। उस दीपक के प्रकाश में वे शिष्यों को पढ़ाते थे। सभी लोग बिल्ली की इस एकाग्रता की बहुत प्रशंसा करते थे। एक शिष्य को कोई बात सूझी। वह एक दिन चूहा छिपाकर ले आया। जब गुरुजी पढ़ा रहे थे, तब उसने चुपके से चूहे को……..

Kya Aap Ishwar Ko Mante Hain PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Ek Guru ji ne billee pal rakhi thi. Jab ve shishyon ko padhate the, tab vah billi sthir hokar baith jati thi aur ve us billi ke sir par deepak rakh dete the. Us Deepak ke prakash mein ve shishyon ko padhate the. Sabhi log billi ki is ekagrata ki bahut prashansa karate the. Ek shishy ko koi bat soojhi. Vah Ek din chooha chhipakar le aaya. Jab Guru ji padha rahe the, tab usane chupake se choohe ko……..
Short Passage of Kya Aap Ishwar Ko Mante Hain Hindi PDF Book : A Guruji had kept a cat. When he taught the disciples, the cat would sit motionless and he would place a lamp on the cat’s head. In the light of that lamp, he used to teach the disciples. Everyone greatly admired this concentration of the cat. A disciple understood something. One day he secretly brought a mouse. While Guruji was teaching, he secretly let the mouse…..
“सफलता एक घटिया शिक्षक है। यह लोगों में यह सोच विकसित कर देता है कि वे असफल नहीं हो सकते।” ‐ बिल गेट्स
“Success is a lousy teacher. It seduces smart people into thinking they can’t lose.” ‐ Bill Gates

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment