साहब बाथरूम में हैं : आश करण अटल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Sahab Bathroom Mein Hain : by Aash Karan Atal Hindi PDF Book – Story (Kahani)

साहब बाथरूम में हैं : आश करण अटल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Sahab Bathroom Mein Hain : by Aash Karan Atal Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name साहब बाथरूम में हैं / Sahab Bathroom Mein Hain
Author
Category, , , ,
Language
Pages 134
Quality Good
Size 1.3 MB
Download Status Available

साहब बाथरूम में हैं का संछिप्त विवरण : काफी समय से हमारी फिल्मों के कथानक में एक ठहराव सा आ गया है। पानी हो या कथानक, ठहराव उसे गंदला कर देता है। कोई विदेशी हमारी फिल्में देखे तो यही सोचेगा कि भारत में या तो प्रेमी बसते हैं या गुंडे। दिन भर की विज्ञापन फिल्मों का कुल निचोड़ है, हमारे बालों में डेंड्रफ और दांतों में कीटाणु पड़े हैं, कपड़ों पर मैल……

Sahab Bathroom Mein Hain PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kaphi samay se hamari Filmon ke kathanak mein ek thaharav sa aa gaya hai. Pani ho ya kathanak, thahrav use Gandala kar deta hai. Koi Videshi hamari Filmen dekhe to yahi Sochega ki bharat mein ya to premi basate hain ya gunde. Din bhar ki vigyapan Filmon ka kul nichod hai, hamare balon mein dendraph aur danton mein keetanu pade hain, kapadon par mail………..
Short Description of Sahab Bathroom Mein Hain PDF Book : For a long time, the story of our films has come to a standstill. Whether it is water or a plot, the stagnation makes it muddy. If a foreigner watches our films, then it will think that either lovers or goons live in India. There is a total squeeze of advertising films of the day, there are dendruff in our hair and germs in the teeth, dirt on the clothes ………
“हम जिस चीज़ की तलाश कहीं और कर रहे होते हैं वह हो सकता है कि हमारे पास ही हो।” हारवी कॉक्स
“What we are seeking so frantically elsewhere may turn out to be the horse we have been riding all along.” Harvey Cox

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment