विराट की पद्मिनी : वृंदावनलाल वर्मा द्वारा मुफ्त हिंदी विराट की पद्मिनी पीडीएफ पुस्तक | Virata Ki Padmini : by Vrindavanlal Verma Free Hindi Virata Ki Padmini Pdf Book

Author
Category, ,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“जिस प्रकार मैं एक गुलाम नहीं बनना चाहता, उसी प्रकार मैं किसी गुलाम का मालिक भी नहीं बनना चाहता। यह सोच लोकतंत्र के सिद्धांत को दर्शाती है।” ‐ अब्राहम लिंकन
“As I would not be a slave, so I would not be a master. This expresses my idea of democracy.” ‐ Abraham Lincoln

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

विराट की पद्मिनी : वृंदावनलाल वर्मा द्वारा मुफ्त हिंदी विराट की पद्मिनी पीडीएफ पुस्तक | Virata Ki Padmini : by Vrindavanlal Verma Free Hindi Virata Ki Padmini Pdf Book 

( Download Link Given Below / डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया हैं )
Virata-Ki-Padmini-Vrindavanlal-Verma-विराट-की-पद्मिनी-वृंदावनलाल-वर्मा

पुस्तक का नाम / Name of Book : विराट की पद्मिनी / Virata Ki Padmini

पुस्तक के लेखक / Author of Book : वृंदावनलाल वर्मा / Vrindavanlal Verma

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 12.5 MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 374

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

पुस्तक का विवरण : विराटा की पद्मिनी डॉ. वृन्दावनलाल वर्मा द्वारा रचित एक एतिहासिक उपन्यास है | यह पुस्तक वृन्दावनलाल जी द्वारा सुनी हुई एक कथा पर आधारित है | वृन्दावन लाल जी सुल्तानपुरा निवासी श्री नंदू पुरोहित जी के यहाँ जाया करते थे , जो कहानियाँ सुनाने में माहिर थे, वह कहानियाँ सुनाते हुए नहीं थकते थे, चाहे सुनने वाले को नींद भले ही आजाये | यह कहानी भी श्री वृन्दावनलाल जी ने पुरोहित जी से सुनी थी | यह कहानी झाँसी के एक राजा और एक रानी पर आधारित है राजा की मृत्यु के बाद कैसे रानी उसका बदला लेती है यह इस पुस्तक में बताया गया है |…………..

Description about eBook : “Virata Ki Padmini” is a historical Novel written by Dr. Vrindavanlal Verma. This book is based on a haired story by Vrindavanlal. Vrindavanlal used to go sultanpura resident priest Mr. Nandu Purohit, Who Specializes in telling stories. He was never tired while telling stories however if a listener see for sleep. This story also heard by Vrindavanlal from Purohit ji. This Novel is based on a King and a Queen of Jhansi, How the queen takes his revenge after the death of King It is mentioned in the book………………..


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें



इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 







श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 

One Quotation / एक उद्धरण
“एक रत्ती भर कर्म एक मन बात के बराबर है।”
– राल्फ वाल्डो इमर्सन
——————————–
An ounce of action is worth a ton of theory.” 
– Ralph Waldo Emerson

Leave a Comment