भावकुतूहलम : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Bhavkutuhalam : Hindi PDF Book – Granth

Book Nameभावकुतूहलम / Bhavkutuhalam
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 229
Quality Good
Size 53 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : सदा विचार होते होते जिसमें विविध प्रकार के चमत्कार दीख पद रहे है, प्राचीन मुनियों के कथन का सार भाग मात्र मत को अच्छी तरह देख कर मैं जीवनाथ विदवानों के उपकार्थ यह भावकुतूहलम नामक ग्रन्थ प्रकाश में ला रहा हूँ-अर्थात लिख रा ा हूँ। साक्षात्‌ ब्रह्माजी के मुख से उच्चरित ज्योतिषशास्त्र………..

Pustak Ka Vivaran : Sada Vichar hote hote jisamen vividh prakar ke chamatkar deekh pad rahe hai, Pracheen muniyon ke kathan ka sar bhag matr mat ko achchhee tarah dekh kar main jeevanath vidvanon ke upakarth yah bhavakutoohalam namak granth prakash mein la raha hoon-arthat likh raha hoon. Sakshat brahmajee ke mukh se uchcharit jyotishashastr…………

Description about eBook : There was always a thought in which various kinds of miracles are posting, the essence of the statement of the ancient monks, seeing only the right opinion, I am writing this book called Bhavkatulyam in the subcontinent of Jivnath scholars-that is, I am writing. Higher astrology from the mouth of Brahma………..

“कठिनाईयां भगवान का संदेश होती हैं; और जब हमें उनका सामना करना पड़ता है तो हमें उनका भगवान के विश्वास के रुप में, भगवान से अभिनंदन के रुप में सम्मान करना चाहिए।” ‐ हेनरी वार्ड बीचर
“Difficulties are God’s errands; and when we are sent upon them, we should esteem it a proof of God’s confidence, as a compliment from God.” ‐ Henry Ward Beecher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment