जनसँख्या नियंत्रण के मिथक और पितृसत्ता की जंजीरों को तोड़कर : शशि मौर्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Jansankhya Niyantran Ke Mithak Aur Pitrasatta Ki Janjiron Ko Todkar : by Shashi Maurya Hindi PDF Book – Social (Samajik)

जनसँख्या नियंत्रण के मिथक और पितृसत्ता की जंजीरों को तोड़कर : शशि मौर्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Jansankhya Niyantran Ke Mithak Aur Pitrasatta Ki Janjiron Ko Todkar : by Shashi Maurya Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name जनसँख्या नियंत्रण के मिथक और पितृसत्ता की जंजीरों को तोड़कर / Jansankhya Niyantran Ke Mithak Aur Pitrasatta Ki Janjiron Ko Todkar
Author
Category,
Language
Pages 204
Quality Good
Size 6 MB
Download Status Available

जनसँख्या नियंत्रण के मिथक और पितृसत्ता की जंजीरों को तोड़कर पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण : तीसरी दुनिया के कई देशों में अस्तित्व के लिए बड़े परिवार का होना एक सोची समझी बुद्धिमत्तापूर्ण रणनीति है। एशिया, अफ्रीका और लातिनी अमरीका के कई देशों के खेतिहर समुदायों में बच्चों का श्रम पारिवारिक अर्थशास्त्र का काफी अहम्‌ हिस्सा है। बच्चे खेती के कामों में हाथ बंटाते हैं, पशुओं की देखरेख करते हैं, पानी भरते हैं……….

Jansankhya Niyantran Ke Mithak Aur Pitrasatta Ki Janjiron Ko Todkar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Teesri Duniya ke kayi deshon mein astitv ke liye bade Parivar ka hona ek sochi Samajhi Buddhimattapurn Rananeeti hai. Ashia, Africa aur Latini America ke kayi deshon ke khetihar Samudayon mein bachchon ka shram parivarik Arthashastra ka kaphi aham‌ hissa hai. Bachche kheti ke kamon mein hath bantate hain, pashuon ki dekharekh karate hain, Pani bharate hain………

Short Description of Jansankhya Niyantran Ke Mithak Aur Pitrasatta Ki Janjiron Ko Todkar Hindi PDF Book : Having a large family is a well thought out strategy for survival in many third world countries. In agricultural communities in many countries of Asia, Africa and Latin America, child labor is an important part of family economics. Children help in farming, look after animals, fill water……….

 

“अगर आप सिर्फ वही करते हैं जो आप जानते हैं कि आप कर सकते हैं – तो आप कभी ज्यादा कुछ नहीं करते।” टॉम क्रौस
“If you only do what you know you can do- you never do very much.” Tom Krause

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment