जहानारा की आत्म-कथा : केशवकुमार ठाकुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – इतिहास | Jhanara Ki Aatam Katha : by Keshav Kumar Thakur Hindi PDF Book – History (Itihas)

जहानारा की आत्म-कथा : केशवकुमार ठाकुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - इतिहास | Jhanara Ki Aatam Katha : by Keshav Kumar Thakur Hindi PDF Book - History (Itihas)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name जहानारा की आत्म-कथा / Jhanara Ki Aatam Katha
Author
Category, , ,
Language
Pages 274
Quality Good
Size 20 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : मुगल-शाही खानदान में अनेक बादशाहों ने आत्म-कथाएँ लिखी है | भारत में मुगल शासन के प्रतिष्ठाता तैमुर ने अपनी आत्म-कहानी लिखी | बाबर ने अपने जीवन की घटनाओं को आत्म-कहानी के रूप में लिखने का प्रयास किया था | बाबर की लड़की, गुलबदन बेगम ने हुमायूं बादशाह की जीवन-कहानी को ‘हुनायुँ नामा, के नाम से तैयार किया था………

Pustak Ka Vivaran : Mugal-shahi khandan mein anek badasaahon ne aatm-kathaen likhi hai. Bharat mein mugal shasan ke pratishthata Taimur ne apni aatm-kahani likhi. Babar ne apne jeevan ki ghatanaon ko aatm-kahani ke roop mein likhne ka prayas kiya tha. Babar ki ladki, Gulbadan begam ne Humayun badashah ki jeevan-kahani ko hunayun nama, ke naam se taiyar kiya tha…………

Description about eBook : Many Mughal emperors have written stories in the Mughal-Shahi dynasty. Tamimur wrote the tale of the Mughal rule in India. Babar had tried to write the events of his life in the form of self-story. Babur’s girl, Gulbadan Begum, prepared the life story of Humayun Badshah in the name of ‘Hunayun Nama’………………

“अपनी सामर्थ्य का पूर्ण विकास न करना दुनिया में सबसे बड़ा अपराध है। जब आप अपनी पूर्ण क्षमता के साथ कार्य निष्पादन करते हैं, तब आप दूसरों की सहायता करते हैं।” ‐ रोजर विलियम्स
“The greatest crime in the world is not developing your potential. When you do your best, you are helping others.” ‐ Roger Williams

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment