कला सृजन प्रकिया : शिव करण सिंह द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Kala Srijan Prakriya : by Shiv Karan Singh Hindi PDF Book – Story ( Kahani )

कला सृजन प्रकिया : शिव करण सिंह द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Kala Srijan Prakriya : by Shiv Karan Singh Hindi PDF Book - Story ( Kahani )
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name कला सृजन प्रकिया / Kala Srijan Prakriya
Author
Category,
Language
Pages 421
Quality Good
Size 54 MB
Download Status Available
कला सृजन प्रकिया पुस्तक का कुछ अंश : जब दिन ठंडे और गहरे हो रहे थे जब श्रीमती बी ने अपने पति और खुद के लिए एक कम्बल बुनने का फैसला किया | वह अपने लिविंग रूम के दूर कोने में झूलने वाली कुर्सी पर बैठ गई और उन्होंने बुनना शुरू किया | उस रात जब मिस्टर बी सर्दियों की फसल बोने के बाद घर आए, तब तक श्रीमती बी ने कम्बल का एक चौकोन पूरा कर लिया था………..
 Kala Srijan Prakriyai PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Parichay karna aur karana saral nahin hota. Aisi sthiti mein yah aur bhi kathin ho jata hai jab apne parichay ka uttaradayitv svayan apne ko vahan karna padta hai. Mainne is kathinai se mukti pane ke lie ek lambi bhumika taiyar ki thi, par prastut paristhitiyon mein uske prakashan mein vilamb hone ki sambhawna dikh padi…………
Short Passage of Kala Srijan Prakriya Hindi PDF Book : It is not easy to introduce and make. In such a situation it becomes even more difficult when the responsibility of your introduction has to be borne by itself. I had prepared a lengthy role to get rid of this difficulty, but in the circumstances presented, its publication was likely to be delayed…………..
“यदि कोई व्यक्ति धन के प्रति अपनी सोच या रवैये को ठीक कर लेता है, इससे उसके जीवन में लगभग हर दूसरे पहलू को ठीक करने में सहायता मिलती है।” – बिल्ली ग्राहम
“If a person gets his attitude toward money straight, it will help straighten out almost every other area in his life.” – Billy Graham

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment