पीरू हज्जाम उर्फ़ हजरत जी : अनवर सुहैल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Peeru Hajjam Urf Hazrat Ji : by Anwar Suhail Hindi PDF Book – Story (Kahani)

Book Nameपीरू हज्जाम उर्फ़ हजरत जी / Peeru Hajjam Urf Hazrat Ji
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 12
Quality Good
Size 186 KB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : अंजनी का बोटा होशियार था । बारहवीं कक्षा मैं तीसरी बार फेल होने के बाद वह धंधे मैं लग गया था। इसने उर्स के अवसर पर प्रायोजित कव्वाली के कार्यक्रम की रिकार्डिंग करवाई पार कटनी जाकर चंद कैसेट तैयार करवा लिए । उन कैसेट्स सैयद शाह बाबा के दरगाह की शान-ओ-अजमत की बेहतरीन कव्वालियाँ कैद थी । उन कैसेट्स की डिमांड बढी तो फिर उसका भी एक……….

Pustak Ka Vivaran : Anjani ka bota hoshiyar tha . Barahaveen kaksha main Teesari bar phel hone ke bad vah dhandhe main lag gaya tha. Isane urs ke avasar par praayojit kavvali ke karyakram kee Ricording karavi paar katani jakar chand Caiset taiyar karava liye . Un Caisets saiyad shah baba ke dargah ki shan-o-Ajmat ki Behatareen kavvaliyan kaid thi . Un Caisets ki Dimand badhi to phir usaka bhi ek………..

Description about eBook : Anjani’s hand was clever. After failing for the third time in class XII, that business was started. On the occasion of Urs, it got a recording of the sponsored qawwali program and went to Katni and got some cassettes ready. Those cassettes of Syed Shah Baba’s dargah were imprisoned by the finest qawwalis of Shan-o-Ajmat. If demand for those cassettes increased, then its also ………

“साहस और दृढ़ निश्चय जादुई तावीज़ हैं जिनके आगे कठिनाईयां दूर हो जाती हैं और बाधाएं उड़न-छू हो जाती है।” ‐ जॉन क्विंसी एडम्स
“Courage and perseverance have a magical talisman, before which difficulties disappear and obstacles vanish into air.” ‐ John Quincy Adams

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment