रिष्ट समुच्चय : श्री दिगम्बर जैनाचार्य दुर्गदेव द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Risht Samuchchay : by Shri Digambar Durgdev Hindi PDF Book – Social (Samajik)

रिष्ट समुच्चय : श्री दिगम्बर जैनाचार्य दुर्गदेव द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Risht Samuchchay : by Shri Digambar Durgdev Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name रिष्ट समुच्चय / Risht Samuchchay
Author
Category,
Language
Pages 216
Quality Good
Size 7 MB
Download Status Available

रिष्ट समुच्चय का संछिप्त विवरण : कुमारी इन्द्रसेना जैन जिनवाणी के प्रति समर्पित विदुषी महिला हैं और उन्होंने इस कृति के प्रकाशन में अपनी चंचला लक्ष्मी का सदपयोग किया है। आपकी हार्दिक भावना थी कि भाद्रमास के मौन व्रत के उद्यापन के उपलक्ष्य में मौनप्रिय पूज्य उपाध्याय आनंदसागरजी के तेईसवें दीक्षा दिवस के अवसर पर उपाध्यायश्री के कर कमलों में भेंट की जाये……

Risht Samuchchay PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kumari Indrasena jain Jinvani ke prati samarpit vidushi mahila hain aur unhonne is krti ke prakashan mein apani chanchala lakshmi ka sadpayog kiya hai. Aapaki hardik bhavana thi ki bhadramas ke maun vrat ke udyapan ke upalakshy mein maunapriy poojy upadhyay Aanandasagar ji ke teeesaven diksha divas ke avasar par upadhyayashri ke kar kamalon mein bhent ki jaye……
Short Description of Risht Samuchchay PDF Book : Kumari Indrasena is a devout woman devoted to Jain Jinwani and has used her fickle Lakshmi in the publication of this work. Your heartfelt sentiment was that on the occasion of the twenty-third initiation day of the revered Pujya Upadhyay Anandasagar ji to be presented in the lotus after tax, to commemorate the occasion of Bhadramas’ silent fast …….
“अगर आप कदम उठाने से पहले सब सुनिश्चित करने की प्रतीक्षा करते है, तो संभव है कि आप कभी ज्यादा कुछ कर ही न पाएं।” ‐ विन बॉर्डेन
“If you wait to do everything until you’re sure it’s right, you’ll probably never do much of anything.” ‐ Win Borden

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment