विनाशकारी प्रलय भाग 2 : विनीत बाजपेयी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Vinashkari Pralay Part 2 : by Vinit Bajpeyi Hindi PDF Book – Story (Kahani)

Book Nameविनाशकारी प्रलय भाग 2 / Vinashkari Pralay Part 2
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 259
Quality Good
Size 3 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : यह उपन्यास, कल्पना ओर किस्सों पर आधारित है, जिसे महज मनोर॑जन के दृष्टिकोण से लिखा गया है। यद्यपि विषय के साथ विविध धर्मों, इतिहास, संस्थान, आस्थाओं और मिथकों का संदर्भ दिया गया है, लेकिन इसका उद्देश्य सिर्फ कहानी को अधिक समृद्ध और दिलचस्प बनाना था। लेखक सर्वधर्म में विश्वास रखता है, और सभी को बराबर मान और सम्मान देता है। कहानी…….

Pustak Ka Vivaran : Yah Upanyas, Kalpana aur kisson par Aadharit hai, Jise Mahaj Manoranjan ke Drshtikon se likha gaya hai. Yadyapi vishay ke sath vividh dharmon, Itihas, Sansthan, Aasthaon aur Mithakon ka sandarbh diya gaya hai, lekin iska uddeshy sirf kahani ko adhik samrddh aur dilchasp banana tha. Lekhak Sarvadharm mein vishvas rakhata hai, Aur Sabhi ko barabar man aur samman deta hai. Kahani mein…….

Description about eBook : This novel is based on fiction and anecdotes, written only for entertainment. Though the theme is accompanied by references to various religions, histories, institutions, beliefs and myths, the aim was only to make the story more rich and interesting. The author believes in all religions, and gives equal respect and respect to all. In the story…….

“व्यक्ति अपने विचारों का ही परिणाम है – जैसा वह सोचता है, वैसा वह बनता है।” गांधी
“A man is but the product of his thoughts – what he thinks, he becomes.” Gandhi

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment