पांच गधे- रांगेय राघव मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक डाउनलोड | 5 Gadhe- Rangeya Raghav Hindi Pdf Book Free Download |

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name पांच गधे / 5 Gadhe
Author
Category, ,
Language
Pages 186
Quality Good
Size 5.8 MB
Download Status Available

पांच गधे पुस्तक का कुछ अंश : बादशाह शासक होता है, और कुलीन उसी को कहा जा सकता है जो कि अपने वर्ग को किन्हीं विशेष अ्रधिकारों के कारण जनसाधारण से अलग और ऊंचा समभते हों । आज के युग में पहले वर्ग में राजनीतिक नेता और दूसरे वर्ग में नौकरशाही आती है । विद्वान और व्यापारी तो आज भी हैं आर इस प्रकार इन चारों बर्गों में कम-अधिक करके शैतान के माल के गण…….

5 Gadhe PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Badshah shasak hota hai, aur kulin usi ko kaha ja sakata hai jo ki apne varg ko kinheen vishesh aradhikaron ke karan Jansadharan se alag aur ooncha samabhate hon. Aaj ke yug mein pahale varg mein Rajneetik neta aur doosare varg mein Naukarashahi aati hai. Vidvan aur vyapari to aaj bhee hain aar is prakar in charon bargon mein kam-adhik karake shaitan ke mal ke gan…….
Short Passage of 5 Gadhe Hindi PDF Book : The emperor is the ruler, and the elite can be called only those who consider their class different and higher than the common people due to some special rights. In today’s era, political leaders come in the first category and bureaucracy in the second category. Scholars and businessmen are there even today, and in this way, in these four categories, more or less, the ranks of Satan’s goods…….
“अधिकांश व्यक्ति अप्राप्त वस्तुओं को प्राप्त करने में प्रयासरत रहते हैं और इस प्रकार उन्हीं चीजों के गुलाम बन के रह जाते हैं जिन्हें वे प्राप्त करना चाहते हैं।” अनवर अल सदात
“Most people seek after what they do not possess and are thus enslaved by the very things they want to acquire.” Anwar El-Sadat

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment