आँसू और पसीना : डॉ० रामप्रताप बहादुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Aansun Aur Pasina : by Dr. Rampratap Bahadur Hindi PDF Book – Story (Kahani)

आँसू और पसीना : डॉ० रामप्रताप बहादुर द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Aansun Aur Pasina : by Dr. Rampratap Bahadur Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आँसू और पसीना / Aansun Aur Pasina
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 150
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

आँसू और पसीना का संछिप्त विवरण : कोई न कोई पुस्तक लिखनी ही थी। साथ-साथ यह भी सत्य है कि यदि और धंघों से खाने भर को कमा लेता तो कम से कम मैं अपने को इस दुर्दशा में न डालता कि ऐड़ी-चोटी का पसीना एक करके क़लम रगड़, और फिर अपना भाग्य साल दो साल के लिये किसी व्यवसायी प्रकाशक को साँप कर बीस रुपये दस आने महीना रायल्टी कमाऊँ……

Aansun Aur Pasina PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Koi na koi Pustak likhani hi thee. Sath-sath yah bhi saty hai ki yadi aur dhanghon se khane bhar ko kama leta to kam se kam main apane ko is durdasha mein na dalata ki aide-choti ka Pasina ek karake qalam ragad, aur phir apana bhagy sal do sal ke liye kisi vyavasayi prakashak ko somp kar bees rupaye das aane mahina Royalty kamaoon…………
Short Description of Aansun Aur Pasina PDF Book : Kistu had to write some book. At the same time, it is also true that if I could earn more by eating thighs, then at least I would not put myself in the plight that rubbing the foreskin one by one, and then my fortune for two years. Businessmen should earn a royalty of twenty rupees and ten tenths per month by publishing to publisher ………….
“परस्पर आदान-प्रदान के बिना समाज में जीवन का निर्वाह संभव नहीं है।” ‐ सेमुअल जॉन्सन
“Life cannot subsist in a society but by reciprocal concessions.” ‐ Samuel Johnson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment