आनन्दलहरी : श्री शयामानन्द नाथ द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – धार्मिक | Anandlahari : by Shri Shayama Nand Nath Hindi PDF Book – Religious (Dharmik)

आनन्दलहरी : श्री शयामानन्द नाथ द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - धार्मिक | Anandlahari : by Shri Shayama Nand Nath Hindi PDF Book - Religious (Dharmik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name आनन्दलहरी / Anandlahari
Author
Category
Language,
Pages 54
Quality Good
Size 25.4 KB
Download Status Available

आनन्दलहरी  पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण  : टीका-शक्ति से युक्त होकर ही शिव प्रपंच कर सकता है अन्यथा वह हिल भी नहीं सकता
| ऐसा दशा में विष्णु, महादेव और ब्रह्मादि तक से पूजित तुभाक्तो-भला मुभ्क्त जैसा पुण्यहीन कैसे स्तुति और
नमस्कार से प्रसन्न करे ? व्याख्या- शिव से अपर-शिव से ही तात्पर्य है | कारण पर शिव वा सदाशिव महाप्रेत
है, जो महाप्रलयावस्था के निष्किय निगुर्ण ब्रह्मा का घोतक है…

Anandlahari PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Tika-shakti se yukt hokar hi shiv prapanch kar sakta hai anyatha vah hil bhi nahin sakta. Aisa dasha mein vishnu, mahadev aur brahmadi tak se poojit tubhakto-bhala mubhkt jaisa punyahin kaise stuti aur namaskar se prasann kare ? vyaakhya- shiv se apar-shiv se hi tatpary hai. Karan par shiv va sadashiv mahapret hai, jo mahapralayavastha ke nishkiy nigurn brahma ka ghotak hai…………

Short Description of Anandlahari  Hindi PDF Book  : Shiva can do wonders only after being vaccinated, otherwise he can not move. In such a state, how worshiped and devoted people worshiped Lord Vishnu, Mahadev and Brahmadi, as merciful, should be pleased with praise and goodness? Explanation – It is from Shiva only to upper-Shiva. On the basis of Shiva or Sadashiv is very much thought, which is the result of the untouched Nirgun Brahma of the great day…….

 

“मित्र क्या है? एक आत्मा जो दो शरीरों में निवास करती है।” – अरस्तू
“What is a friend? A single soul dwelling in two bodies.” – Aristotle

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

2 thoughts on “आनन्दलहरी : श्री शयामानन्द नाथ द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – धार्मिक | Anandlahari : by Shri Shayama Nand Nath Hindi PDF Book – Religious (Dharmik)”

    • सर्व प्रथम हरे बटन पर क्लिक करें , उसके बाद जो अगला पेज खुलेगा उसमे नीले बटन पर क्लिक करें | इस तरह आप पुस्तक डाउनलोड कर पाएंगे | धन्यवाद

      Reply

Leave a Comment