बलिवेदी पर : श्री विद्याभास्कर शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Balivedi Par : by Shri Vidhyabhaskar Shukl Hindi PDF Book – Story (Kahani)

बलिवेदी पर : श्री विद्याभास्कर शुक्ल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Balivedi Par : by Shri Vidhyabhaskar Shukl Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बलिवेदी पर / Balivedi Par
Author
Category, , , ,
Language
Pages 114
Quality Good
Size 3.3 MB
Download Status Available

बलिवेदी पर का संछिप्त विवरण : बालक का मुँह उतर गया। उसकी आकृति पर उदासी के भाव नाचने लगे। हृदय अपमान और वेदना से मथ उठा | इसका कारण यही था कि वह अपने बाप के नाम को नहीं जानता था ! वही नहीं, बल्‍लभीपुर के अधिकांश नर-नारी भी उसके पिता से प्राय: अनभिज्ञ ही थे। इसी से लोग अवसर पा कर गयरी से, उसके बाप के सम्बश्ध में…….

Balivedi Par PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Balak ka munh utar gaya. Usaki Aakrti par udasi ke bhav nachane lage. Hriday Apman aur vedana se math utha. Iska karan yahi tha ki vah apane bap ke nam ko nahin janata tha ! Vahi nahin, Ballabheepur ke Adhikansh nar-nari bhi usake Pita se pray: anabhigy hi the. Isi se log avsar pa kar gayari se, usake bap ke sambandh mein……..
Short Description of Balivedi Par PDF Book : The boy’s face dropped. Feelings of sadness danced on his figure. The heart was filled with humiliation and anguish. The reason for this was that he did not know his father’s name! Not only this, most of the men and women of Ballabhipur were also ignorant of his father. This is why people get opportunities from the gary, in relation to his father …….
“आशा के साथ तैयार की गई सड़क पर यात्रा करना उस सड़क पर यात्रा करने से कहीं अधिक आनन्ददायक होता है जिसे निराशा के साथ तैयार किया जाता है चाहे उन दोनो की मंजिल एक ही क्यों न हो।” ‐ मैरियन जिम्मर ब्रैडले
“The road that is built in hope is more pleasant to the traveler than the road built in despair, even though they both lead to the same destination.” ‐ Marian Zimmer Bradley

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment