बालकों का भावनात्मक निर्माण (बाल मनोविज्ञान) : पं० श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – मनोविज्ञान | Balkon Ka Bhavanatmak Nirman (Bal Manovigyan) : by Pt. Shri Ram Sharma Hindi PDF Book – Psychology (Manovigyan)

Book Nameबालकों का भावनात्मक निर्माण (बाल मनोविज्ञान) / Balkon Ka Bhavanatmak Nirman (Bal Manovigyan)
Author
Category, ,
Language
Pages 177
Quality Good
Size 7MB
Download Status Available

बालकों का भावनात्मक निर्माण (बाल मनोविज्ञान)  पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण :  हमारे सामने आज कितनी समस्याएँ मुँह बाये खड़ी हैं। राष्ट्रीय सामाजिक तथा नैतिक
पुनरुत्थान का बहुत बड़ा दायित्व आज हमारे कंधों पर आ पड़ा है। इसी दायित्व को कल हम आने वाली पीढ़

के कंधों पर रखेंगे । यदि उनके कंधे कमजोर हुए तो वे लड़खड़ा जाएँगे । उन्हें आज से ही
जुटना पड़ेगा. ऐसे सुदृढ़ बनाने में

Balkon Ka Bhavanatmak Nirman (Bal Manovigyan) PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Hamare Samne aaj kitni Samasyayen munh baye khadei hain. Rashtriya, samajik tatha Naitik Punarutthan ka bahut bada dayitv aaj hamare kandhon par aa pada hai. Isei Dayitv ko kal ham aane vali peedhei ke kandhon par rakhenge . Yadi unke kandhe kamjor huye to ve ladakhada jayenge. Unhen aaj se hei aise sudrdh banane mein jutana padega……..

Short Description of Balkon Ka Bhavanatmak Nirman (Bal Manovigyan) Hindi PDF Book : How many problems are facing us today? The great responsibility of national, social and moral revival has fallen on our shoulders today. Tomorrow we will place this responsibility on the shoulders of the coming generation. If their shoulders are weak, they will stumble. They will have to work in making them strong from today itself…..

 

“अपने मित्र को उसके दोषों को बताना मित्रता की सबसे कठोर परीक्षा होती है।” – हैनरी वार्ड बीचर
“It is one of the severest tests of friendship to tell your friend his faults.” – Henry Ward Beecher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment