बौना दैत्य : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Bauna Daitya : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameबौना दैत्य / Bauna Daitya
Author
Category, ,
Language
Pages 18
Quality Good
Size 2.5 MB
Download Status Available

बौना दैत्य का संछिप्त विवरण : नाव में से एक बौना बाहर निकला। “मैं समुद्र में एक तूफ़ान में फंस गया था। “छोटे बौने ने कहा। “क्या मैं थोड़ी देर के लिए आपके यहाँ आराम कर सकता हूँ। “आपका हमारे शांत और शांतिपूर्ण देश में स्वागत है.”राजकुमारी मैनीची ने कहा “हमारे यहाँ बहुत कम ही मेहमान आते है। ” राजकुमार मेनीची ने कहा। “कृपया हमारे साथ शाम का भोजन करें। बौना जल्द ही अदरक और सरसों के साथ……..

Bauna Daitya PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Nav mein se ek bauna bahar nikala. Main Samudra mein ek toofan mein phans gaya tha. Chhote baune ne kaha. Kya main thodee der ke liye Aapake yahan Aaram kar sakata hoon. Aapaka hamare shant aur shantipoorn desh mein svagat hai. Rajkumari maineechee ne kaha hamare yahan bahut kam hee mehaman Aate hai. Rajkumar meneechee ne kaha. krpaya hamare sath sham ka bhojan karen. Bauna jald hee adarak aur sarason ke sath…………
Short Description of Bauna Daitya PDF Book : A dwarf exited the boat. “I was trapped in a storm in the sea.” ” Said the little dwarf. “Can I rest here for a while?” “You are welcome in our quiet and peaceful country.” Princess Manichi said “We have very few guests coming here.” ” Prince Menichi said. “Please have dinner with us.” Dwarf soon with ginger and mustard………..
“बुद्धिमत्ता की पुस्तक में ईमानदारी पहला अध्याय है।” – थॉमस जैफर्सन
“Honesty is the first chapter in the book of wisdom.” -Thomas Jefferson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment