बीसलदेव रास : डॉ. माता प्रसाद गुप्त द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Beesal Dev Ras : by Dr. Mataprasad Gupt Hindi PDF Book – Granth

बीसलदेव रास : डॉ. माता प्रसाद गुप्त द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ग्रन्थ | Beesal Dev Ras : by Dr. Mataprasad Gupt Hindi PDF Book - Granth
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name बीसलदेव रास / Beesal Dev Ras
Author
Category, , ,
Language
Pages 359
Quality Good
Size 10 MB
Download Status Available

बीसलदेव रास का संछिप्त विवरण : ‘बीसलदेव रास’ हिंदी का गौरव-ग्रन्थ माना जाता रहा है, क्योंकि इसमें स्वस्थ प्रणय की एक सुन्दर प्रेम गाथा गई गई है, और सामान्यत इसके संबंध में विश्वास यह रहा है कि यह हिंदी के सबसे प्राचीन ग्रंथों में से है। कुछ इतिहासकारों ने तो इसे हिंदी का सर्वप्रथम ग्रन्थ तक कहा है। किन्तु राजस्थान के आलोचकों और इतिहासकारों……..

Beesal Dev Ras PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Beesaladev raas Hindi ka Gaurav-granth mana jata raha hai, kyonki isamen svasth pranay kee ek sundar prem gatha gayi gayi hai, aur samanyat isake sambandh mein vishvas yah raha hai ki yah hindi ke sabase pracheen granthon mein se hai. kuchh itihasakaron ne to ise hindi ka sarvapratham granth tak kaha hai. Kintu Rajasthan ke Alochakon aur itihasakaron………..
Short Description of Beesal Dev Ras PDF Book : ‘Beasladeva Raas’ has been considered as a Hindi book of pride, as it has a beautiful love story of healthy love, and in general it has been believed that it is one of the most ancient texts in Hindi. Some historians have even called it the first book of Hindi. But critics and historians of Rajasthan………..
“जीवन की आधी असफलताओं का कारण व्यक्ति का अपने घोड़े के छलांग लगाते समय उसकी लगाम खींच लेना होता है।” ‐ चार्ल्स हेयर
“Half the failures of this world arise from pulling in one’s horse as he is leaping.” ‐ Augustus Hare

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment