भारत और उनका नाट्यशास्त्र : डा० व्रजवल्लभ मिश्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – ग्रन्थ | Bharat Aur Unka Natya Shastra : by Dr. Vrajvallabha Mishra Hindi PDF Book – Granth

भारत और उनका नाट्यशास्त्र : डा० व्रजवल्लभ मिश्र द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - ग्रन्थ | Bharat Aur Unka Natya Shastra : by Dr. Vrajvallabha Mishra Hindi PDF Book - Granth
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name भारत और उनका नाट्यशास्त्र / Bharat Aur Unka Natya Shastra
Author
Category,
Language
Pages 164
Quality Good
Size 37.3 MB
Download Status Available

भारत और उनका नाट्यशास्त्र का संछिप्त विवरण : जिस भारतीय संस्कृत ने कभी सम्पूर्ण विश्व में अपना वर्चस्व स्थापित किया था, उस संस्कृत की स्वर्णिम सम्पदा का संरक्षण, प्रसारण तथा प्रचारण आज के युग की महती आवश्यकता है | भौतिकवाद के विश्वव्यापि विकास के बाद आज सारी दुनियां के द्वारा पुन: सांस्कृतिक मूल्यों की आवश्यकता का अनुभव किया जाने लगा…..

Bharat Aur Unka Natya Shastra PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Jis bharatiy sanskrt ne kabhi sampurn vishv mein apna varchasv sthapit kiya tha, us sanskrt ki svarnim sampada ka sanrakshan, prasaran tatha pracharan aaj ke yug ki mahati aavashyakta hai. Bhautikavad ke vishvavyapi vikas ke baad aaj sari duniyan ke dwara pun: sanskrtik mulyon ki aavashyakta ka anubhav kiya jane laga…………
Short Description of Bharat Aur Unka Natya Shastra PDF Book : Conservation, broadcasting and dissemination of the golden wealth of Sanskrit, which has established its domination in the entire world, has a great need for today’s era. After the worldwide development of materialism, the need for re-cultural values was felt by all the worlds today………
“केवल जानना पर्याप्त नहीं है, हमें अवश्य ही प्रयोग भी करना चाहिए। केवल इच्छा करना पर्याप्त नहीं है, बल्कि हमें कार्य करना भी चाहिए।” गोएथ
“Knowing is not enough; we must apply. Willing is not enough; we must do.” Goethe

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment