भारत में विग्यान की उज्जवल परम्परा- सुरेश सोनी मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Bharat Mein Vigyan Ki Ujjawal Parampara by Suresh Soni Hindi Book Download

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name भारत में विग्यान की उज्जवल परम्परा / Bharat Mein Vigyan Ki Ujjawal Parampara
Author
Category, ,
Language
Quality Good
Download Status Available

भारत में विग्यान की उज्जवल परम्परा पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण : विश्व के रंगमंच पर अनेक देश हैं। इतिहास की गहराइयों में जाकर हम झांकते हैं तो जो दृश्य हमारे नेत्रों के सामने उभरता है वह यह कि भारत सदियों से विश्व में मानव जाति के लिए प्रेरणा का केन्द्र रहा है। हमारे पूर्वजों ने ‘कृण्वन्तो विश्वम्आर्यम्‘ अर्थात्‌ सम्पूर्ण विश्व को श्रेष्ठ बनाएंगे और ‘वसुधैव कुटुम्बकम्‌‘ संपूर्ण वसुधा एक कुटुम्ब है तथा ‘स्वदेशो भुवनत्रयम्‌‘ तीनों लोक हमारे लिए स्वदेश हैं,…………

Bharat Mein Vigyan Ki Ujjawal Parampara PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Vishv ke rangamanch par anek desh hain. Itihas ki gaharaiyon mein jakar ham jhankate hain to jo drshy hamare netron ke samane ubharata hai vah yah ki bharat sadiyon se vishv mein manav jaati ke lie prerana ka kendr raha hai. Hamare poorvajon ne ‘krnvanto vishvamaryam‘ arthat‌ sampoorn vishv ko shreshth banaenge aur ‘vasudhaiv kutumbakam‌‘ sampoorn vasudha ek kutumb hai tatha ‘svadesho bhuvanatrayam‌‘ tino lok hamare lie svadesh hain,…………

Short Description of Bharat Mein Vigyan Ki Ujjawal Parampara Hindi PDF Book : There are many countries on the stage of the world. If we look into the depths of history, the scene that emerges in front of our eyes is that India has been the center of inspiration for mankind in the world for centuries. Our forefathers made ‘Kravanto Vishwamaryam’ that means, will make the whole world the best and ‘Vasudhaiva Kutumbakam’ the entire Vasudha is one family and ‘Swadesho Bhuvanatrayam’, the three worlds are home for us,…………

“अगर आप कुछ करें, और वह अच्छा निकल आए तो आपको जा कर कुछ और अद्भुत करना चाहिए, अपनी पहली उपलब्धि पर ही देर तक ध्यान लगाते न रह जाएं। बस पता लगाएं कि आगे क्या है।” – स्टीव जॉब्स
“If you do something and it turns out pretty good then you should go do something else wonderful, not dwell on it for too long. Just figure out what’s next.” – Steve Jobs

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment