भाषा की शक्ति और अन्य निबंध : सम्पूर्णानन्द द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Bhasha Ki Shakti Or Anya Nibandh : by Sampurnanand Hindi PDF Book – Literature ( Sahitya )

भाषा की शक्ति और अन्य निबंध : सम्पूर्णानन्द द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Bhasha Ki Shakti Or Anya Nibandh : by Sampurnanand Hindi PDF Book - Literature ( Sahitya )
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name भाषा की शक्ति और अन्य निबंध / Bhasha Ki Shakti Or Anya Nibandh
Author
Category, ,
Language
Pages 118
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

भाषा की शक्ति और अन्य निबंध पुस्तक का कुछ अंश : कुछ मित्रों की यह इच्छा थी कि मेरे साहित्यिक निबन्धों का संग्रह प्रकाशित किया जाय परन्तु बहुत खोज करने पर भी मेरी कोई ऐसी रचना न मील सकी जो यथार्थरूप से साहित्यिक कही जा सकती हो | एक तो मुझमें उपयुक्त योग्यता नहीं है ; दुसरे, ऐसे व्यक्ति के लिए जो राजनीति में सक्रीय भाग…….

Bhasha Ki Shakti Or Anya Nibandh PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Kuch mitron ki yah iccha thi ki mere sahityik nibandhon ka sangrah prakashit kiya jay parantu bahut khoj karne par bhi meri koi aisi rachna na mil saki jo yathartharup se sahityik kahi ja sakti ho. Ek to mujhmen upyukt yogyata nahin hai ; dusre, aise vyakti ke lie jo rajniti mein sakriy bhag leta ho…………
Short Passage of Bhasha Ki Shakti Or Anya Nibandh Hindi PDF Book : Some friends had a desire to publish a collection of my literary essays but even after searching a lot, none of my creative works could be literally called literary. I do not have the appropriate qualifications in me; Second, for a person who actively participates in politics…………..
“ऐसा कोई युग कभी नहीं रहा जिसमें अतीत का गुणगान और वर्तमान पर विलाप न किया गया हो।” – लिलियन आइक्लर वॉटसन
“There has never been an age that did not applaud the past and lament the present.” – Lillian Eichler Watson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment