भविष्य महापुराणम (संपूर्ण) : पंडित बाबूराम उपाध्याय | Bhavishya Mahapuranam (Sampoorna) : by Pandit Baburam Upadhyaya Hindi PDF Book

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name भविष्य महापुराणम (संपूर्ण) / Bhavishya Mahapuranam (Sampoorna)
Author
Category, , ,
Language
Pages 1620
Quality Good
Size 84 MB
Download Status Available

भविष्य महापुराणम (संपूर्ण) का संछिप्त विवरण : यह कहने में मुझे कोई संकोच नहीं है कि यदि प्रतिसर्गपर्व को इस पुराण से अलग कर दिया जाय, तो इसकी अति प्राचीनता स्वयमेव सिद्ध हो जायेगी। कुछ इतिहासकारों ने वो मध्यकालीन इतिहास का प्रमुख आधार इसी ऐराण को माना है तथा इसमें उल्लिखित विषयों……

Bhavishya Mahapuranam (Sampoorna) PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Yah kahne mein mujhe koi Sankoch nahin hai ki yadi pratisargaparv ko is puran se alag kar diya jay, to iski ati pracheenata svayamev siddh ho jayegi. Kuchh itihasakaron ne vo madhyakaleen itihas ka pramukh aadhar isi airan ko mana hai tatha isamen ullikhit vishayon……
Short Description of Bhavishya Mahapuranam (Sampoorna) PDF Book : I have no hesitation in saying that if Pratisarga Parva is separated from this Purana, then its antiquity will automatically be proved. Some historians have considered this Aran as the main basis of medieval history and the subjects mentioned in it……..
“मेरी पीढ़ी की महानतम खोज यह रही है कि मनुष्य अपने दृष्टिकोण में परिवर्तन कर के अपने जीवन को बदल सकता है।” विलियम जेम्स (१८४२-१९१०), अमरीकी दार्शनिक
“The greatest discovery of my generation is that a human being can alter his life by altering his attitudes.” William James (1842-1910), American Philosopher

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

भविष्य महापुराणम (संपूर्ण) : पंडित बाबूराम उपाध्याय द्वारा  हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Bhavishya Mahapuranam (Sampoorna) : by Pandit Baburam Upadhyaya Hindi PDF Book

bhavishya-mahapuranam-sampoorna-pandit-baburam-upadhyaya-भविष्य-महापुराणम-(संपूर्ण)-पंडित-बाबूराम-उपाध्याय

 

पुस्तक का नाम / Name of Book : भविष्य महापुराणम (संपूर्ण) / Bhavishya Mahapuranam (Sampoorna)

पुस्तक के लेखक / Author of Book : पंडित बाबूराम उपाध्याय / Pandit Baburam Upadhyaya

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 84.3 MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 1620

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )
अन्य अध्यात्मिक पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  “हिंदी अध्यात्मिक पुस्तक”
To read other Spiritual books click here- “Hindi Spiritual Books”

 

सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें

 
 
इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं

 

 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 

One Quotation / एक उद्धरण
“बड़ी खुशी की आस में कई लोग छोटी खुशियों को खो देते हैं।”
– पर्ल बक़

 

——————————–
“Many people lose the small joys in the hope for the big happiness.”
– Pearl Buck

Leave a Comment