छत पर मक्खी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Chhat Par Makkhi : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

छत पर मक्खी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - बच्चों की पुस्तक | Chhat Par Makkhi : Hindi PDF Book - Children's Book (Bachchon Ki Pustak)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name छत पर मक्खी / Chhat Par Makkhi
Category, , ,
Language
Pages 25
Quality Good
Size 3.5 MB
Download Status Available

छत पर मक्खी का संछिप्त विवरण : रेने ने छत पर मक्खी को बैठे देखा. जब मक्खी उतरी, तब उन्होंने उस स्थान तक की लाइनें गिनी. उन्होंने लाइनों की संख्या नीचे लिखी: 2. फिर उन्होंने उस स्थान तक ऊपर से नीचे की लाइनें गिनीं. उन्होंने उनकी संख्या नीचे लिखी: 5. इन दोनों संख्याओं 2 और 5 ने, मक्खी कहाँ थी, उसकी स्थिति रेने को बताई ! संख्या 2 और 5 को निर्देशांक कहते हैं. पहला निर्देशांक……..

Chhat Par Makkhi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Rene ne chhat par Makkhi ko baithe dekha. Jab Makkhi utri, tab unhonne us sthan tak ki lainen gineen. Unhonne lainon ki sankhya neeche likhi: 2. Phir unhonne us sthan tak oopar se neeche ki lainen gineen. Unhonne unki Sankhya Neeche likhi: 5. In donon Sankhyaon 2 aur 5 ne, Makkhi kahan thee, uski sthiti rene ko batayi ! sankhya 2 aur 5 ko Nirdeshank kahate hain. Pahala Nirdeshank………
Short Description of Chhat Par Makkhi PDF Book : Rene saw the fly sitting on the ceiling. When the fly landed, he counted the lines up to that place. He wrote down the number of lines: 2. Then he counted the lines from top to bottom until that point. He wrote down their numbers: 5. These two numbers, 2 and 5, told Rene where the fly was! The numbers 2 and 5 are called coordinates. First coordinate………
“कल तो चला गया। आने वाले कल अभी आया नहीं है। हमारे पास केवल आज है। आईये शुरुआत करें।” – मदर टेरेसा
“Yesterday is gone. Tomorrow has not yet come. We have only today. Let us begin.” – Mother Teresa

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment