दर्शन और जीवन : सम्पूर्णानंद द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Darshan Aur Jivan : by Sampurnanand Hindi PDF Book

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name दर्शन और जीवन / Darshan Aur Jivan
Author
Category,
Language
Pages 202
Quality Good
Size 6 MB
Download Status Available

दर्शन और जीव का संछिप्त विवरण : जहाँ तक इन विषयो पर पुस्तकों के लिखे जाने की आवश्यकता की बात है वह तक तो कोई विवाद नहीं हो सकता | हमारे वाड्मय भण्डार में इन विषयों पर और इसी प्रकार के दुसरे विषयों पर बहुत सी पुस्तके चाहिए | परन्तु इसका तात्पर्य यह नहीं है की दर्शन के अध्यन की आवश्यकता नहीं………

 

Darshan Aur Jivan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Jahaan tak in vishayo par pustakon ke likhe jaane kee aavashyakata kee baat hai vah tak to koee vivaad nahin ho sakata. hamaare vaadmay bhandaar mein in vishayon par aur isee prakaar ke dusare vishayon par bahut see pustake chaahie. Parantu isaka taatpary yah nahin hai kee darshan ke adhyan kee aavashyakata nahin hai………….
Short Description of Darshan Aur Jivan PDF Book : As far as the books need to be written on these subjects, there can be no controversy. In our class store there are many books on these topics and on similar topics. But this does not mean that the study of philosophy is not required……………
“व्यवहारकुशलता लोगों को यह विश्वास दिलाने की कला है कि वे आप से अधिक जानते हैं।” – रेमंड मॉर्टीमर
“Tact is the art of convincing people that they know more than you do.” -Raymond Mortimer

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment