दुबला पतला, पिंगल शेर और चतुर बंदर : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Dubla Patla, Pingal Sher Aur Chatur Bandar : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameदुबला पतला, पिंगल शेर और चतुर बंदर / Dubla Patla Pingal Sher Aur Chatur Bandar
Author
Category, ,
Language
Pages 14
Quality Good
Size 978 KB
Download Status Available

दुबला पतला, पिंगल शेर और चतुर बंदर का संछिप्त विवरण : “अगर यह पशु चुपचाप खड़े रहें तो मैं आसानी से इनका शिकार कर पाऊँगा!” उसने अपने-आप से कहा. लेकिन ऐसा होता नहीं था. अगर वह ज़ेबरे का शिकार करना चाहता तो ज़ेबरा भाग खड़ा होता. जिराफ़ और हाथियों के साथ भी वैसा ही होता. जिसे भी वह पकड़ने की कोशिश करता वह भाग जाता जितनी उसे भूख लगती उतना ही वह भागता………….

Dubla Patla Pingal Sher Aur Chatur Bandar PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Agar Yah Pashu chupchap khade rahen to main Aasani se inka shikar kar paunga!” Usne apne-aap se kaha. Lekin aisa hota nahin tha. Agar vah zebare ka shikar karana chahata to zebara bhag khada hota. Ziraf aur hathiyon ke sath bhi vaisa hi hota. Jise bhi vah pakdane ki koshish karta vah bhag jata jitni use bhookh lagti utna hi vah bhagata……….
Short Description of Dubla Patla Pingal Sher Aur Chatur Bandar PDF Book : If these animals stand quietly, I will be able to hunt them easily!” He said to himself. But this did not happen. If he wanted to hunt the zebra, the zebra would run away. The same would happen with giraffes and elephants. Whoever he tried to catch would run away, the more he felt hungry, the more he would run………..
“अभिकल्पना किसी यंत्र की बाहरी बनावट मात्र नहीं है। अभिकल्पना तो इसकी कार्यविधि का मूल है।” स्टीव जॉब्स
“Design is not just what it looks like and feels like. Design is how it works.” Steve Jobs

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment