गऊ रक्षा और हिन्दुस्तानी मुसलमान : मौलाना अब्दुलकरीम पारेख द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Gau Raksha Aur Hindustani Musalman : by Maulana Abdul Karim Parekh Hindi PDF Book – Social (Samajik)

गऊ रक्षा और हिन्दुस्तानी मुसलमान : मौलाना अब्दुलकरीम पारेख द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Gau Raksha Aur Hindustani Musalman : by Maulana Abdul Karim Parekh Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name गऊ रक्षा और हिन्दुस्तानी मुसलमान / Gau Raksha Aur Hindustani Musalman
Author
Category,
Language
Pages 21
Quality Good
Size 10.2 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इंसान की किसी कोशिश व मेहनत के बारे में यह नहीं कहा जा सकता कि वह गलतियों से पाक है। मोहरतम मौलाना की यह किताब भी एक इंसानी कोशिश है। इस के कुछ अंशों से मतभेद किया जा सकता है। विचार एवं चिंतन की दृष्टि से भी कुछ पहलू सुधार योग्य हो सकते है,लेकिन इस में कोई शक नहीं कि…….

Pustak Ka Vivaran : Insan kee kisi koshish va mehanat ke bare mein yah nahin kaha ja sakata ki vah galatiyon se pak hai. Moharatam maulana kee yah kitab bhee ek insani koshish hai. Is ke kuchh anshon se matabhed kiya ja sakata hai. Vichar evan chintan kee drshti se bhee kuchh pahaloo sudhar yogy ho sakate hai, Lekin is mein koi shak nahin ki…………

Description about eBook : It cannot be said about any effort and hard work of a human being that he is guilty of mistakes. This book by Mohtram Maulana is also a human effort. This can be contrasted with some parts. Some aspects can be correctable in terms of thought and thinking, but there is no doubt that………..

“समस्त संसार के लिए हो सकता है कि आप केवल एक इंसान हों लेकिन संभव है कि किसी एक इंसान के लिए आप समस्त संसार हों।” ‐ जोसेफीन बिलिंग्स
“To the world you may be just one person but to one person you may be the world.” ‐ Josephine Billings

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment