सभी मित्र, हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे और नाम जप की शक्ति को अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये
वीडियो देखें

हिंदी संस्कृत मराठी ब्लॉग

हम सूरज को देख सके हैं / Ham Sooraj Ko Dekh Sake Hain

हम सूरज को देख सके हैं : मिकोला गिल द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - बच्चों की पुस्तक | Ham Sooraj Ko Dekh Sake Hain : by Mikola Gill Hindi PDF Book - Children's Book (Bachchon Ki Pustak)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name हम सूरज को देख सके हैं / Ham Sooraj Ko Dekh Sake Hain
Author
Category, , , , ,
Language
Pages 14
Quality Good
Size 2 MB
Download Status Available

सभी मित्र हस्तमैथुन के ऊपर इस जरूरी विडियो को देखे, ज्यादा से ज्यादा ग्रुप में शेयर करें| भगवान नाम जप की शक्ति को पहचान कर उसे अपने जीवन का जरुरी हिस्सा बनाये|

पुस्तक का विवरण : वह एक सिपाही था। वह 1947 में सिपाही बना, जब हिटलर की नाजी फ़ौज ने उसके देश पर हमला कर दिया। वह कोई साधारण सिपाही नहीं था। वह एक इंजीनियर था। फ़ौज ने ईंजीनियर का काम खतरनाक और कठिन होता है। उसे हमेशा आगे रहना पड़ता है। जब टैंक आगे बढ़ते है तो उससे पहले इंजीनियर को जाकर बारूदी सुरंगे हटानी पड़ती है। इंजीनियर को बहादुर होना चाहिए…….

Pustak Ka Vivaran : Vah Ek Sipahi tha. Vah 1941 mein Sipahi bana, Jab Hitler kee Naji fauj ne usake desh par hamala kar diya. Vah koi Sadharan sipahi nahin tha. Vah Ek Engineer tha. Fauj ne Engineer ka kam khataranak aur kathin hota hai. Use Hamesha Aage rahana padata hai. Jab Tank Aage badhate hai to usase pahale Engineer ko Jakar Baroodi surange hatani Padati hai. Engineer ko Bahadur hona chahiye………

Description about eBook : He was a soldier. He became a soldier in 1941, when Hitler’s Nazi army attacked his country. He was not an ordinary soldier. He was an engineer. The army engineer work is dangerous and difficult. He always has to stay ahead. When the tanks move, the engineer has to remove the landmines before that. Engineer must be brave ………

“अपनी सामर्थ्य का पूर्ण विकास न करना दुनिया में सबसे बड़ा अपराध है। जब आप अपनी पूर्ण क्षमता के साथ कार्य निष्पादन करते हैं, तब आप दूसरों की सहायता करते हैं।” रोजर विलियम्स
“The greatest crime in the world is not developing your potential. When you do your best, you are helping others.” Roger Williams

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Leave a Comment