हमारे समय का जरुरी परिचय – त्रिशूल और तर्पण : प्रफुल्ल कोलख्यान द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – साहित्य | Hamare Samay Ka Jaruri Parichay – Trishul Aur Tarpan : by Prafull Kolakhyan Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

हमारे समय का जरुरी परिचय - त्रिशूल और तर्पण : प्रफुल्ल कोलख्यान द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - साहित्य | Hamare Samay Ka Jaruri Parichay - Trishul Aur Tarpan : by Prafull Kolakhyan Hindi PDF Book - Children's Book (Bachchon Ki Pustak)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name हमारे समय का जरुरी परिचय – त्रिशूल और तर्पण / Hamare Samay Ka Jaruri Parichay – Trishul Aur Tarpan
Author
Category,
Language
Pages 4
Quality Good
Size 93 KB
Download Status Available

हमारे समय का जरुरी परिचय – त्रिशूल और तर्पण का संछिप्त विवरण : क्या है हिंदी साहित्य में यह ‘त्रिशूल’ और क्या है हिंदी समाज का त्रिशूल। आगे बढ़ने के पहले थोड़ा-सा समय मिथकीय त्रिशूल पर भी नजर डालना जरूरी लग रहा है और समकालीन राजनीति के त्रिशूलीकरण को भी याद कर लेना जरूरी लग रहा है। त्रिशूल रुद्र का हथियार है। रुद्र इसका इस्तेमाल शिव को सुनिश्चित करने के लिए करते हैं। यह बात तब और महत्त्वपूर्ण लगने लगती है जब हमारा ध्यान इस तरफ जाता है कि शिव आर्येतर परंपरा से आते हैं। यहाँ के शिव के आर्य……….

 

Hamare Samay Ka Jaruri Parichay – Trishul Aur Tarpan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Kya hai Hindi sahity mein yah trishool aur kya hai hindi samaj ka trishool. Aage badhane ke pahale thoda-sa samay mithakiy trishool par bhi Najar dalana jaroori lag raha hai aur samakalin Rajneeti ke trishooleekaran ko bhi yad kar lena jaruri lag raha hai. Trishool rudr ka hathiyar hai. Rudr isaka istemal shiv ko sunishchit karane ke liye karate hain. Yah bat tab aur mahattvapurn lagane lagati hai jab hamara dhyan is taraph jata hai ki shiv aaryetar parampara se aate hain. Yahan ke shiv ke aary………
Short Description of Hamare Samay Ka Jaruri Parichay – Trishul Aur Tarpan PDF Book : What is this ‘trishul’ in Hindi literature and what is the trident of Hindi society. Before proceeding further, it seems necessary to look at the mythical trident for a while and also remember the tridentization of contemporary politics. Trishul is the weapon of Rudra. Rudra uses it to ensure Shiva. This point becomes more important when we notice that Shiva comes from the non-Aryan tradition. Shiva’s Aryans here………
“यदि कोई व्यक्ति धन के प्रति अपनी सोच या रवैये को ठीक कर लेता है, इससे उसके जीवन में लगभग हर दूसरे पहलू को ठीक करने में सहायता मिलती है।” ‐ बिल्ली ग्राहम
“If a person gets his attitude toward money straight, it will help straighten out almost every other area in his life.” ‐ Billy Graham

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment