हिमपात में गुलाब के फूलों का गायन : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Himapat Mein Gulab Ke Phoolon Ka Gayan : Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameहिमपात में गुलाब के फूलों का गायन / Himapat Mein Gulab Ke Phoolon Ka Gayan
Author
Category, , ,
Language
Pages 17
Quality Good
Size 1662 KB
Download Status Available

हिमपात में गुलाब के फूलों का गायन का संछिप्त विवरण : जब दक्षिण चीन का गवर्नर नए संसार में आया और उसे मेलिन का बनाया पकवान बहुत पसंद आया तो उसके पिता ने वही बात दोहराई। गवर्नर ने तुरंत आदेश दिया कि दोनों भाई उसके सामने वही पकवान बनायें। जब दोनों वह पकवान नहीं बना पाए तो मेलिन को आकर उसे बनाना पड़ा। इस घटना के बाद गवर्नर को ज्ञात हुआ………..

Himapat Mein Gulab Ke Phoolon Ka Gayan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Jab Dakshin cheen ka Gavernor nae sansar mein aaya aur use melin ka banaya pakavan bahut pasand aaya to usake pita ne vahi baat doharai. Gavernor ne turant aadesh diya ki donon bhai usake samane vahi pakavan banayen. Jab donon vah pakavan nahin bana paye to melin ko aakar use banana pada. Is Ghatana ke bad gavarnar ko gyat huya………….
hort Description of Himapat Mein Gulab Ke Phoolon Ka Gayan PDF Book : When the governor of South China came to the new world and liked the dish made of Melin, his father repeated the same thing. The governor immediately ordered that the two brothers make the same dish in front of him. When both could not make the dish, Melin had to come and make it. The governor became known after this incident…………
“कोई भी काम शुरु करने से पहले स्वयं से तीन प्रश्न पूछें – मैं यह काम क्यों कर रहा हूं, इसके क्या परिणाम हो सकते हैं और क्या मैं सफ़ल रहूंगा। इन तीनों प्रश्नों पर गहरे विचार के बाद यदि आप इनके उत्तर संतोषप्रद पाएं तभी आगे बढ़ें।” चाणक्य
“Before you start some work, always ask yourself three questions – why am I doing it, what the results might be and will I be successful. Go ahead only when you think deeply and find satisfactory answers to these questions.” Chanakya

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment