जल्दी मरने की उतावली न करें : श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – स्वास्थ्य | Jaldi Marane Ki Utavali Na Karen : by Shri Ram Sharma Acharya Hindi PDF Book – Health (Svasthya)

Book Nameजल्दी मरने की उतावली न करें / Jaldi Marane Ki Utavali Na Karen
Author
Category, ,
Language
Pages 67
Quality Good
Size 14 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : ‘उतावली और हड़बड़ी में रहने की प्रवृत्ति प्रायः इन रोगों की जननी होती है | कामकाज निबटाने में उतावली से काम लेना और आराम करते समय भी कामकाज की चिंता, इन रोगों का स्वागत करती हैं । कुछ वर्षो पूर्व आयरलैंड में जन्मे ५७५ जुड़वाँ बच्चों का तुलनात्मक अध्ययन किया गया । बाद में दो जुड़वाँ भाइयों में से एक को अमेरिका के नोस्टन शहर में ले जाया गया ।जो वहाँ कुछ महीनों……

Pustak Ka Vivaran : Utavali aur Hadabadi mein Rahane ki pravrtti prayah in Rogon ki janani hoti hai. Kamakaj Nibatane mein utavali se kam lena aur Aaram karate samay bhi kamkaj ki chinta, in Rogon ka svagat karati hain . Kuchh varshon purv irland mein janme 575 judavan bachchon ka tulanatmak adhyayan kiya gaya . Bad mein do judavan bhaiyon mein se ek ko america ke nostan shahar mein le jaaya gaya . Jo vahan kuchh maheenon…….

Description about eBook : The tendency to live in haste and hurry is often the mother of these diseases. The promptness in handling the work and even while resting, worries of functioning, welcomes these diseases. A few years ago a comparative study of 575 twins born in Ireland was carried out. Later one of the two twin brothers was taken to the city of Nostan, USA. Which was there a few months…….

“जिंदगी का मेरा सूत्र बहुत ही सरल है। मैं सुबह जागता हूं तथा रात को सो जाता हूं। इसके बीच में मैं जितना हो सके स्वयं को व्यस्त रखता हूं।” ‐ केरी ग्रांट
“My formula for living is quite simple. I get up in the morning and I go to bed at night. In between, I occupy myself as best I can.” ‐ Cary Grant

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment