कहानियां और रेखाचित्र : निकोलाई तीखोनोव द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – कहानी | Kahaniyan Aur Rekhachitra : by Nikolai Tikhonov Hindi PDF Book – Story (Kahani)

कहानियां और रेखाचित्र : निकोलाई तीखोनोव द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - कहानी | Kahaniyan Aur Rekhachitra : by Nikolai Tikhonov Hindi PDF Book - Story (Kahani)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name कहानियां और रेखाचित्र / Kahaniyan Aur Rekhachitra
Author
Category, , , ,
Language
Pages 244
Quality Good
Size 4 MB
Download Status Available

कहानियां और रेखाचित्र का संछिप्त विवरण : प्रथम विश्वयुद्ध शुरू हुआ। बीस वर्षीय तिखोनीव स्वेच्छा से मोर्चे पर लड़ने गए। किन्तु इस निरर्थक युद्ध ने शीघ्र ही युवा स्वप्रदर्शी की आँखें क्योंकि उसका, यानी युद्ध का, जनता के वास्तविक हितों से दर का भी सबंध नहीं था। इन्हीं दिनों निकोलाई तिखोनोव ने लिखना भी शुरू किया…….

Kahaniyan Aur Rekhachitra PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Pratham Vishvayuddh shuru huya. Bees Varshiy Tikhoneev svechchha se morche par ladne gaye. Kintu is Nirarthak yuddh ne sheeghra hi yuva Svapnadarshi ki Aankhen kyonki uska, yani yuddh ka, janta ke vastavik hiton se dar ka bhi Sabandh nahin tha. Inheen dinon Nikolai Tikhonov ne likhna bhi shuru kiya…………
Short Description of Kahaniyan Aur Rekhachitra PDF Book : World War I started. Twenty-year-old Tikhonev voluntarily went to fight at the front. But this futile war soon caught the eyes of the young dreamer, because it, that is, war, had nothing to do with the real interests of the people. It was during these days that Nikolai Tikhonov also started writing………..
“मेरा दृष्टिकोण तो यह है कि आप इंद्रधनुष चाहते हैं तो आपको वर्षा सहन करनी ही होगी।” – डॉली पार्टन
“The way I see it, if you want the rainbow, you gotta put up with the rain.” – Dolly Parton

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment