खोजा नसरुद्दीन भारत में : रिजवान जहीर उस्मान द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Khoja Nasruddin Bharat Mein : by Rijwan Zahir Usman Hindi PDF Book – Children’s Book (Bachchon Ki Pustak)

Book Nameखोजा नसरुद्दीन भारत में / Khoja Nasruddin Bharat Mein
Author
Category, , ,
Language
Pages 12
Quality Good
Size 2.7 MB
Download Status Available

खोजा नसरुद्दीन भारत में का संछिप्त विवरण : लेकिन भारत का राजा अमरीका के चक्कर में नहीं आया। क्योंकि कल ही जापान के राजा ने भारत के राजा को टेलीफोन पर भगवान बुद्ध की कसम खाकर बताया कि उसने ख़ोजा नसरुद्दीन को अपनी आँखों के सामने सूली पर लटका दिया है | लटकाने के बाद डाक्टरों ने उसके शरीर की जाँच करके बताया था कि ख़ोजा मर चुका है। भारत का राजा अभी पूरी तरह सोच भी नहीं पाया था कि अमरीका के राजा की बात का क्या जवाब दे कि तभी ब्रिटेन की महाणानी का फोन आ गया। महारानी ने कहा कि खोजा……..

Khoja Nasruddin Bharat Mein PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Lekin Bharat ka Raja Amarica ke chakkar mein nahin aaya. Kyonki kal hee Japan ke Raja ne bharat ke Raja ko Teliphon par bhagavan buddh kee kasam khakar bataya ki usane khoja Nasaruddeen ko apani Aankhon ke samane sooli par lataka diya hai. Latakane ke bad Doctaron ne usake shareer kee janch karake bataya tha ki khoja mar chuka hai. Bharat ka Raja Abhi Poori tarah soch bhee nahin Paya tha ki America ke Raja kee bat ka kya javab de ki tabhi britain kee Maharani ka phone aa gaya. Maharani ne kaha ki khoja ko…………
Short Description of Khoja Nasruddin Bharat Mein PDF Book : But the king of India did not follow the US. Because yesterday, the King of Japan told the King of India, swearing on the telephone of Lord Buddha, that he had hanged Khosa Nasruddin on the cross in front of his eyes. After hanging, the doctors had examined his body and said that the search was dead. The king of India was not able to think fully about how to answer the king of America, when the call of the Great Queen of Britain came. The Queen said that Khoja was …………
“ऐसा व्यक्ति जो अपनी आंतरिक सत्ता का शासक है तथा अपनी भावनाओं, इच्छाओं, और भय को नियंत्रित करता है, वह किसी राजा से भी श्रेष्ठ व्यक्ति है।” जॉन मिल्टन
“He, who reigns within himself, and rules passions, desires, and fears, is more than a king.” John Milton

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment