क्षमा शर्मा की चुनिंदा बाल कहानियाँ : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – बच्चों की पुस्तक | Kshama Sharma Ki Chuninda Bal Kahaniyan : Hindi PDF Book -Children’s Book (Bachchon Ko Pustak)

Book Nameक्षमा शर्मा की चुनिंदा बाल कहानियाँ / Kshama Sharma Ki Chuninda Bal Kahaniyan
Author
Category, , , , , ,
Language
Pages 57
Quality Good
Size 14.4 MB
Download Status Available

क्षमा शर्मा की चुनिंदा बाल कहानियाँ का संछिप्त विवरण : सभी पशु-पक्षी निकलकर नदी के पास गए। नदी बोली-मैं धरती पर बहती हूँ आसमान में नहीं जा सकती। सूरज को यह बात पता है। पृथ्वी से वह सारा पानी सोख लेता है। ‘मगर हम तो आसमान में उड़ते है, तब भी हम सूरज के पास नहीं पहुँच सकते। एक तो वह बहुत दूर है। दूसरे उसके पास जाया ही नहीं जा सकता…….

Kshama Sharma Ki Chuninda Bal Kahaniyan PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Sabhi Pashu-Pakshi Nikalkar Nadi ke Pas gaye. Nadi boli-main dharati par bahati hoon Aasman mein nahin ja sakati. Sooraj ko yah bat pata hai. Prthvi se vah sara pani sokh leta hai. Magar ham to Aasman mein udate hai, tab bhee ham sooraj ke pas nahin pahunch sakate. Ek to vah bahut door hai. Doosare usake pas jaya hee nahin ja sakata……….
Short Description of Kshama Sharma Ki Chuninda Bal Kahaniyan PDF Book : All the birds and animals went out to the river. The river said – I flow on the earth cannot go to the sky. Suraj knows this. It absorbs all the water from the earth. ‘But even though we fly in the sky, we cannot reach the sun. One is far away. The other cannot go to him ……….
“सौंदर्य शक्ति है; और मुस्कान उसकी तलवार है।” ‐ जॉन रे
“Beauty is power; a smile is it’s sword.” ‐ John Ray

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment