लघु उपन्यास और कहानियाँ : कृष्ण कुमार द्वारा हिन्दी पीडीएफ़ पुस्तक | Laghu Upanyas Aur Kahaniyan : by Krishan Kumar Hindi PDF Book

Book Nameलघु उपन्यास और कहानियाँ / Laghu Upanyas Aur Kahaniyan
Author
Category,
Language
Pages 446
Quality Good
Size 10.6 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : वह एक सुंदर रात थी जब होशियार क्लर्क एवान दिमित्रीच अव्वल दर्जो की दूसरी पंक्ति मे बैठकार दूरबीन की मदद से लकलोचास दृकर्नवल का आनंद ले रहा था | वह खेल देख रहा था और अपने को सबसे सुखी मनुष्य समझ रहा था जब यकायक एक घिसा पिटा मुहावरा हो गया है……

Pustak Ka Vivaran : vah ek sundar raat thee jab hoshiyaar klark evaan dimitreech avval darjo kee doosaree pankti me baithakaar doorabeen kee madad se lakalochaas dkarnaval ka aanand le raha tha. vah khel dekh raha tha aur apane ko sabase sukhee manushy samajh raha tha jab yakaayak ek ghisa pita muhaavara ho gaya hai………….

Description about eBook : It was a beautiful night when the clever clerk Avan Dimitri was enjoying Laklochas Dinkarnal with the help of a sitting bin in the second row of the top scorers. He was watching the game and was considered to be the happiest man when the person has become a worn out idiot………….

“स्थितियां कैसी भी क्यों न हों, मैं अभी भी आनन्दमग्न और खुश रहने के लिए प्रतिबद्ध हूं; क्योंकि मैंने अनुभव से यह सीखा है कि हमारी खुशियों और दुखों बड़ा हिस्सा हमारी सोच पर निर्भर करता है न कि हमारी परिस्थितियों पर।” मार्था वाशिंगटन
“I am still determined to be cheerful and happy, in whatever situation I may be; for I have also learned from experience that the greater part of our happiness or misery depends upon our dispositions, and not upon our circumstances.” Martha Washington

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment