मदारी : वेदप्रकाश शर्मा द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Madari : by Ved Prakash Sharma Free Hindi PDF Book

Book Nameमदारी / Madari
Author
Category,
Language
Pages 471
Quality Good
Size 3.5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : ‘जी चाहता है अपने हाथों से तुम दोनों की खोपड़ियां खोल दूं। इस काम को करने से दुनिया की कोई ताकत इस वक्‍त मुझे रोक भी नहीं सकती। मगर नहीं, इतनी आसान सजा नहीं दे सकता मैं तुम्हें। तुम्हारे खून से अपने हाथ रंगने का मैं जरा भी ख्वाहिशमंद नहीं हूं। जो गुनाह………

Pustak Ka Vivaran : Jee Chahata hai apne hathon se tum donon ki Khopadiyan khol doon. Is kam ko karne se duniya ki koi takat is vak‍ta mujhe rok bhi nahin sakti. Magar nahin, itni aasan saja nahin de sakta main tumhen. Tumhare khoon se apne hath rangane ka main jara bhi khvaahishamand nahin hoon. Jo gunah………

Description about eBook : I want to open the skulls of both of you with my hands. No power in the world can stop me from doing this work at this time. But no, I cannot punish you so easily. I have no desire to paint my hands with your blood. Which crime………

“आज से एक वर्ष बाद आप सोचेंगे कि काश आपने आज से शुरुआत की होती।” केरेन लेम्ब
“A year from now you will wish you had started today.” Karen Lamb

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

1 thought on “मदारी : वेदप्रकाश शर्मा द्वारा मुफ्त हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Madari : by Ved Prakash Sharma Free Hindi PDF Book”

Leave a Comment