मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book

Author
Category, , ,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“निराशावादी व्यक्ति पवन के बारे में शिकायत करता है; आशावादी इसका रुख बदलने की आशा करता है; लेकिन यथार्थवादी पाल को अनुकूल बनाता है।” ‐ विलियम आर्थर वार्ड
“The pessimist complains about the wind; the optimist expects it to change; the realist adjusts the sails.” ‐ William Arthur Ward

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book

( Download Link Given Below / डाउनलोड लिंक नीचे दिया गया हैं )
Majaaj-aur-Unki-Shayri-Prakash-Pandit-मजाज-और-उनकी-शायरी-प्रकाश-पंडित

पुस्तक का नाम / Name of Book : मजाज और उनकी शायरी

पुस्तक के लेखक / Author of Book : प्रकाश पंडित

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी 

Size of Ebook : 2.3 MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 102

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

पुस्तक का विवरण / Description about ebook :-

 खूब पहचान लो ‘असरार’ हूँ मैं |
जिनसे-उल्फत का तलबगार हूँ मैं ||
ख्वाबे-इशरत में है अरबाबे-खिरद |
और इक शायरे-बेदार हूँ मैं ||
ऐब जो हाफिज-ओ-खय्याम में था |
हाँ कुछ उसका भी गुनहगार हूँ मैं ||
हूरों-गिलमाँ का यहाँ ज़िक्र नहीं |
          नोआ-ए-इंसान का परस्तार हूँ मैं ||………. 



सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें


http://db.44books.com/2016/11/blog-post_14.html

इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 







श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 

One Quotation / एक उद्धरण
“आपका कोई भी काम महत्त्वहीन हो सकता है, किंतु महत्त्वपूर्ण तो यह है कि आप कुछ करें।”
– महात्मा गांधी
——————————–
“Almost everything you do will seem insignificant, but it is important that you do it.”
– Mahatma Gandhi

मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book मजाज और उनकी शायरी : प्रकाश पंडित द्वारा  मुफ्त हिंदी पुस्तक | Majaaj aur Unki Shayri : by Prakash Pandit Free Hindi Book

Leave a Comment