मानसिक संतुलन- श्रीराम शर्मा मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Mansik Santulan by Shri Ram Sharma Hindi Book Download

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मानसिक संतुलन / Mansik Santulan
Category, ,
Language
Pages 32
Quality Good
Size 1968 KB
Download Status Available

मानसिक संतुलन पुस्तक का कुछ अंश : जिस प्रकार हाथ कांप रहा हो तो उस समय बन्दूक का निशाना नहीं साधा जा सकता, उसी प्रकार आवेश या उत्तेजना की दशा में मानसिक कम्पन की अधिकता रहती है । उस उद्विग्तता की दशा में यह निर्णय करना कठिन होटा है कि क्या करना चाहिए और क्या न करना चाहिए…….

Mansik Santulan PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : Jis Prakar hath kamp raha ho to us samay Bandook ka nishana nahin sadha ja sakata, usi prakar aavesh ya uttejana ki dasha mein mansik kampan kee adhikata rahti hai. Us Udvigtata ki dasha mein yah nirnay karna kathin hota hai ki kya karna chahiye aur kya na karna chahiye…….
Short Passage of Mansik Santulan Hindi PDF Book : Just as a gun cannot be aimed when the hand is trembling, in the same way, there is an excess of mental vibrations in the state of passion or excitement. In that state of anxiety, it is difficult to decide what should be done and what should not be done……….
“आपकी उपलब्धियों का निर्धारण आपकी प्रवृति से नहीं अपितु आपके रवैय्ये से होता है।” ‐ जिग जिगलर
“It is your attitude and not your aptitude that determines your altitude.” ‐ Zig Zigler

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment