मनुष्य शरीर की श्रेष्ठता : देवीप्रसाद खत्री द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Manushy Sharir Ki Shreshthata : by Deviprasad Khatri Hindi PDF Book – Social (Samajik)

मनुष्य शरीर की श्रेष्ठता : देवीप्रसाद खत्री द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Manushy Sharir Ki Shreshthata : by Deviprasad Khatri Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मनुष्य शरीर की श्रेष्ठता / Manushy Sharir Ki Shreshthata
Author
Category, ,
Language
Pages 70
Quality Good
Size 1.5 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : इटली के किसी प्राचीन नगर के एक सुनसान भाग से एक बहुत ही पुराना मंदिर बना हुआ है । इस मंदिर की टूटी फूटी दीवारों पर एक परदा लटक रहा है | जहाँ किसी बहुत ही पुराने चित्रकार मे अपनी अनूठी चित्र-विद्या का परिचय दिया है। आज यह चित्रकार संसार से नहीं है। आज यदि कब्र खोदी जाय तो उसकी हड्डियों का भी पता नहीं लगेगा | शताब्दियों से……….

Pustak Ka Vivaran : Italy ke kisi pracheen nagar ke ek sunsan bhag se ek bahut hi purana mandir bana huya hai. Is Mandir ki tooti phooti deevaron par ek parada latak raha hai. jahan kisi bahut hi purane chitrakar me apani anoothi chitra-vidya ka parichay diya hai. Aaj yah chitrakar sansar sen nahin hai. Aaj yadi kabr khodi jay to usaki hrddiyon ka bhi pata nahin lagega. Shatabdiyon se………..

Description about eBook : A very old temple is built from a deserted part of an ancient city in Italy. A curtain is hanging on the broken walls of this temple. Where a very old painter has introduced his unique paintings. Today this painter is not like the world. Today, if the tomb is dug, then its heart will not be detected. For centuries ………..

“मुझे बचपन में ही बता दिया गया था कि मुझे पूर्णतया अपने आप पर निर्भर रहना होगा; यह भी की मेरा भविष्य मेरे हाथ में ही है।” ‐ डेरियस ओग्डेन मिल्स
“I was taught very early that I would have to depend entirely upon myself; that my future lay in my own hands.” ‐ Darius Ogden Mills

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment