माता और पुत्र : चंडी शरण बनारसी द्वारा हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – उपन्यास | Mata Aur Putra : by Chandi Sharan Banarasi Hindi PDF Book – Novel (Upanyas)

Book Nameमाता और पुत्र / Mata Aur Putra
Author
Category, , ,
Language
Pages 210
Quality Good
Size 80 MB
Download Status Available

पुस्तक का विवरण : मैं इस समय तुम्हारा दोष प्रकट करना आवश्यक नहीं समझता, मुझे तो इस बच्ची को मनुष्य बनाने चिन्ता है, इसीपर विचार करता है | आज दफ्तर से आकर मैं मग्न हु की संतान को धर्मात्मा, सुशील, साधु-प्रकृति बनाना ही माता पिता का परम धर्म है, जिसपर किसी बिचार नहीं | तुमने तो अपने विवाह से……

Pustak Ka Vivaran : Main is samay Tumhara dosh prakat karana Avashyak nahin samajhata, mujhe to is bachchi ko manushy banane  chinta hai, isipar vichar karata hai. Aaj daphtar se aakar main magn hu ki santan ko dharmatma, susheel, sadhu-prakrti banana hi mata pita ka param dharm hai, jisapar kisi  vichar nahin. Tumane to apane vivah se………….

Description about eBook : I do not think it necessary to disclose your faults at this time, I think this baby girl makes man, thinks about it. Today, coming from the office, I am delighted to make the child a God, a saint, a saint-nature, is the parent’s ultimate religion, which has no thoughts. You from your marriage…………..

“जीवन वैसा ही बनता है जैसा हम इसे बनाते हैं, हमेशा ऐसा ही बनता था, और हमेशा बनता रहेगा।” ‐ ऐन मैरी रॉबर्टसन
“Life is what we make it, always has been, always will be.” ‐ Anna Mary Robertson

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment