मुक्तिद्वार मुफ्त हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक | Muktidwar Hindi Book Free Download

पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name मुक्तिद्वार / Muktidwar
Author
Category
Language
Pages 787
Quality Good
Size 32 MB
Download Status Available

मुक्तिद्वार पुस्तक का कुछ अंश : श्री अभिलाष साहेब जी सन्त दशा में ऐसे ही एक आदर्श महापुरुष है। नि.स्वार्थरूप से परहितरत रहना आप का स्वभाव है आप शील, समता, विनम्रता, निविवादिता, शांति, विवेक आदि सद्गुणों से सम्पन्न संतों के तुल्य ही दर्शित होते हैं………

Muktidwar PDF Pustak in Hindi Ka Kuch Ansh : : Shri Abhilash Saheb ji Sant dasha mein aise hi ek Aadarsh mahapurush hai. ni.svartharoop se parahitarat rahna aap ka svabhav hai aap sheel, samata, vinamrata, nivivadita, shanti, vivek aadi sadgunon se sampann santon ke tuly hi darshit hote hain………
Short Passage of Muktidwar Hindi PDF Book : : Shri Abhilash Saheb ji is such an ideal great man in saint condition. It is your nature to remain free from selfishness, you are shown equal to the saints who are full of virtues like modesty, equality, humility, non-controversial, peace, discretion etc.
“हम जो हैं वही बने रहकर वह नहीं बन सकते जो कि हम बनना चाहते हैं।” – मैक्स डेप्री
“We cannot become what we need to be by remaining what we are.” – Max Depree

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment