नागार्जुन कृत माध्यमकशास्त्र और विग्रहव्यावर्तनी : यशदेव शल्य | Nagarjuna Krita Madhyamak Shastra Aur Vigrahavyavartani : by Yashdeva Shalya Hindi PDF Book

Author
Category, ,
Language
पुस्तक का डाउनलोड लिंक नीचे हरी पट्टी पर दिया गया है|
“हर बार जब हम कोई नया काम शुरू करते हैं, तब हम अपने आप से वही सवाल करते हैं – हम अलग और बेहतर क्या कर सकते हैं?” रिकार्डो गौडालुपे
“Every time we start a new project, we always ask ourselves the same question – What can we do better and different?” Ricardo Guadalupe

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

नागार्जुन कृत माध्यमकशास्त्र और विग्रहव्यावर्तनी : यशदेव शल्य द्वारा हिंदी पीडीऍफ पुस्तक | Nagarjuna Krita Madhyamak Shastra Aur Vigrahavyavartani : by Yashdeva Shalya Hindi PDF Book 

nagarjuna-krita-madhyamak-shastra-aur-vigrahavyavartani-yashdeva-shalya-नागार्जुन-कृत-माध्यमकशास्त्र-और-विग्रहव्यावर्तनी-यशदेव-शल्य

पुस्तक का नाम / Name of Book : नागार्जुन कृत माध्यमकशास्त्र और विग्रहव्यावर्तनी / Nagarjuna Krita Madhyamak Shastra Aur Vigrahavyavartani

पुस्तक के लेखक / Author of Book : यशदेव शल्य / Yashdeva Shalya

पुस्तक की भाषा / Language of Book : हिंदी / Hindi

पुस्तक का आकर / Size of Ebook : 52.9 MB

कुल पन्ने / Total pages in ebook : 134

पुस्तक डाउनलोड स्थिति / Ebook Downloading Status  : Best 

(Report this in comment if you are facing any issue in downloading / कृपया कमेंट के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

पुस्तक का विवरण : आधुनिक युग में देश और विदेश के अनेक विद्वान बौद्ध दर्शन के अध्ययन की ओर आकृष्ट हुए हैं और परिणामतः प्रमुखतम बौद्ध दार्शनिकों में अग्रगण्य नागार्जुन पर भी बहुत-सा लेखन हुआ है…………..

अन्य शास्त्र पुस्तकों के लिए यहाँ दबाइए-  “हिंदी शास्त्र पुस्तक”

Description about eBook : In the modern era, many scholars from the country and abroad have come to study Buddhist philosophy. And as a result, there has been a lot of writing on the leading Nagarjuna in the leading Buddhist philosophers………………

To read other Shastra books click here- “Hindi Shastra Books”


सभी हिंदी पुस्तकें ( Free Hindi Books ) यहाँ देखें



इस पुस्तक को दुसरो तक पहुचाएं 

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें 

One Quotation / एक उद्धरण
“सीमाएं केवल हमारे दिमाग में हैं। लेकिन अगर हम अपनी कल्पनाओं का उपयोग करें, तो हमारी संभावनाएं असीमित हो जाती हैं।”
– जेमी पाओलिनेटि


——————————–
“Limitations live only in our minds. But if we use our imaginations, our possibilities become limitless.”
– Jamie Paolinetti

Leave a Comment