नामालेखा और मुनीबी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक – सामाजिक | Namalekha Aur Munibi : Hindi PDF Book – Social (Samajik)

नामालेखा और मुनीबी : हिंदी पीडीऍफ़ पुस्तक - सामाजिक | Namalekha Aur Munibi : Hindi PDF Book - Social (Samajik)
पुस्तक का विवरण / Book Details
Book Name नामालेखा और मुनीबी / Namalekha Aur Munibi
Category,
Language
Pages 700
Quality Good
Size 40 MB
Download Status Available

नामालेखा और मुनीबी पीडीऍफ़ पुस्तक का संछिप्त विवरण : कम्पनी शेयर ब्टे से नहीं बेच सकती। परन्तु इंग्लैण्ड में अब यह जायज हो गया है। जब शेयर बट्टे से नहीं बेचे जा सकते। परन्तु डिबेन्चर बट्टे से निकाले जा सकते है ,प्रीमियम और डिस्काउंट का या बढ़ती और बट्टे का हिसाब बिलकुल अलग अलग रखा जाता है। शेयर अथवा डिबेंचर क़रिस्त से भरे जा सकते है। बराबर के भाव में और दो किस्तों……..

Namalekha Aur Munibi PDF Pustak Ka Sankshipt Vivaran : Company Shares batte se nahin bech sakati. Parantu England mein ab yah jayaj ho gaya hai. Jab share batte se nahin beche ja sakate. Parantu dibenchar batte se nikale ja sakate hai ,preemiyam aur discount ka ya badhati aur batte ka hisab bilkul alag alag rakha jata hai. Share athava dibenchar qist se bhare ja sakate hai. Barabar ke bhav mein aur do kiston……..

Short Description of Namalekha Aur Munibi Hindi PDF Book  : The company cannot sell shares. But now it has become legitimate in England. When shares cannot be sold off But debentures can be taken out of discount, premium and discount or increasing and discount is kept completely different. Shares or debentures can be filled with installments. Two more installments in equal price…….

 

“महत्त्व इस बात का नहीं है कि आप कितने अच्छे हैं। महत्त्व इस बात का है कि आप कितना अच्छा बनना चाहते हैं।” ‐ पॉल आर्डेन
“It’s not how good you are. It’s how good you want to be.” ‐ Paul Arden

हमारे टेलीग्राम चैनल से यहाँ क्लिक करके जुड़ें

Check Competition Books in Hindi & English - कम्पटीशन तैयारी से सम्बंधित किताबें यहाँ क्लिक करके देखें

Leave a Comment